चंडीगढ़: भारत चीन के मध्य सीमा पर जारी तनाव के बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र की राजग सरकार से कहा कि पीएम केयर्स फंड में चीनी कंपनियों से प्राप्त दान को वह उन्हें वापस कर दे. यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुये कैप्टन ने आरोप लगाया कि कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ संघर्ष के लिय स्थापित पीएम केयर्स फंड में कुछ चीनी कंपनियों से भी दान प्राप्त हुये हैं.Also Read - Bhagwant Mann Wedding: फिर से दूल्हा बनेंगे पंजाब के CM भगवंत मान, केजरीवाल भी करेंगे शिरकत | Watch Video

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मुझे लगता है कि चीन के खिलाफ हमें सख्त रूख अपनाना चाहिये. मुझे नहीं लगता कि जब हमारे लड़के (सैनिक) मारे जा रहे हैं तब हम चीनी (कंपनियों से) पैसा ले सकते हैं.’ लद्दाख में 15—16 जून की दरम्यानी रात चीनी सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गये थे. मुख्यमंत्री ने कुछ चीनी कंपनियों के नाम भी लिये जिन्होंने पीएम केयर्स फंड में दान दिया है. Also Read - सिद्धू मूसेवाला के पैतृक गांव मूसा जाएंगे सीएम भगवंत मान, परिजनों से करेंगे मुलाकात

उन्होंने कहा, ‘सवाल यह नहीं है कि कितना पैसा आया है. ऐसे समय में, जब वे (चीन) कोविड के लिये और मेरे देश के खिलाफ आक्रामकता के लिये जिम्मेदार हैं, तो चीनी कंपनियों से हम एक रुपया भी नहीं ले सकते हैं.’ कैप्टन ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह वह समय है जब हमें चीनी कंपनियों से प्राप्त धन, को उन्हें वापस लौटा देना चाहिये. भारत को अपनी देख रेख करने के लिये चीन के पैसों की आवश्यकता नहीं है.’ Also Read - पंजाबी सिंगर मूसेवाला के अंतिम संस्कार के भावुक कर देने वाले पल, रोते-बिलखते पिता ने भारी भीड़ में उतारी अपनी पगड़ी | Watch Video  

(इनपुट भाषा)