जम्मू: कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के भाई सहित 12 लोगों के खिलाफ जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के साथ संबंध होने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि मामले दो अलग अलग एफआईआर के जरिए दर्ज किए गए हैं.

पहली एफआईआर में छह लोगों के नाम हैं और उन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया हैं वहीं दूसरी प्राथमिकी में जिसमें प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री जी एम सरूरी के भाई मोहम्मद शफी साहित छह अन्य लोगों के नाम हैं. आरोपी अभी फरार हैं. उनकी तलाश की जा रही है.

अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब जम्मू-कश्मीर में 24 अक्टूबर को होंगे बीडीसी चुनाव

सरूरी ने बताया, ‘‘मुझे अभी-अभी इसके बारे में पता चला और मैं हैरान हूं. हमारे लोग इस प्रकार का काम कभी नहीं कर सकते . कल मैं पता करूंगा कि माजरा क्या है.’’ अधिकारियों ने बताया कि शफी और पांच अन्य लोगों पर हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों को उनके मंसूबों को अंजाम देने के लिए शरण देने और परिवहन की सुविधा मुहैया कराने के आरोप हैं.

(इनपुट- भाषा)