लखनऊः देश में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाली पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी गायिका कनिका कपूर के खिलाफ लापरवाही के आरोप में लखनऊ के सरोजनी नगर थाने में शुक्रवार को मुकदमा दर्ज किया गया. राज्य सरकार ने लखनऊ जिला प्रशासन को पिछले दिनों आयोजित उन तीनों कार्यक्रमों की जांच करने के आदेश दिए हैं जिनमें कनिका शामिल हुई थी. साथ ही उनमें शामिल हुए लोगों को चिन्हित कर उन्हें पृथक रखने के आदेश दिए गए हैं. Also Read - VIDEO: कोरोना संकट के बीच दिखा ये नजारा, विधायक ने खुलेआम एएसआई के छुए पैर

लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे ने बताया कि कनिका के खिलाफ खतरनाक बीमारी फैलाने की संभावना वाली हरकत करने के मुख्य आरोप में लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की तहरीर पर भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270 और 188 के तहत सरोजिनी नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. कनिका के खिलाफ हजरतगंज और गोमती नगर थानों में दो और मुकदमे दर्ज हो सकते हैं. वह इन इलाकों में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुई थीं. Also Read - COVID-19: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 116 हुई

गृह विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने लखनऊ में बताया कि राज्य सरकार ने कनिका के गत 13, 14 और 15 मार्च को होली के सिलसिले में आयोजित हुए कार्यक्रमों की जांच के आदेश देते हुए लखनऊ जिला प्रशासन से 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट मांगी है. उन्होंने बताया कि इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेने वाले लोगों की पहचान कर उन्हें पृथक रखने और उनकी स्वास्थ्य संबंधी सभी आवश्यक जांच सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए गए हैं. Also Read - Video: निजामुद्दीन मरकज से अस्‍पताल में भर्ती शख्‍स ने 6वीं मंजिल से सुसाइड की कोशिश की

इसके पूर्व, कनिका के पिता राजीव कपूर ने लखनऊ में कहा “कनिका इस वक्त संजय गांधी परास्नातक आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में एक अलग स्थान पर हैं और डॉक्टर उनकी देखभाल कर रहे हैं.” उन्होंने बताया कि कनिका मुंबई में एक दिन गुजारने के बाद गत 11 मार्च को लखनऊ आई थीं. उस वक्त वह बिल्कुल ठीक थीं. पिछले दो दिनों के दौरान उन्हें बुखार और खांसी की शिकायत हुई और हमने एहतियात के तौर पर उनका मेडिकल परीक्षण कराया. आज सुबह हमें मालूम हुआ कि वह कोरोना संक्रमित हैं.

उन्होंने पूछने पर बताया कि कनिका ने गत 13, 14 और 15 मार्च को होली से जुड़ी दो-तीन पार्टियों में शिरकत की थी. वे छोटे आयोजन थे और कुल मिलाकर कर इनमें 250 से 300 लोगों ने शिरकत की थी.

इस बीच, सूत्रों ने बताया कि कनिका की शिरकत वाली पार्टियों में अनेक राजनेता और अधिकारी भी शामिल हुए, जिनमें उत्तर प्रदेश के कुछ मंत्री भी हैं. राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा सांसद दुष्यंत सिंह भी कनिका की पार्टी में शामिल हुए थे.

इस बीच कांग्रेस ने कनिका की पार्टियों में राजनेताओं और अधिकारियों के शामिल होने पर सवाल उठाए हैं. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि प्रदेश सरकार के मंत्री और अधिकारी जनता को सुझाव और सलाह तो खूब दे रहे हैं मगर उस पर खुद अमल नहीं करते. खुद स्वास्थ्य मंत्री और अधिकारी बड़ी-बड़ी पार्टियों में शामिल होते हैं और जनता को गुमराह कर रहे हैं. एक संक्रमित महिला के इस पार्टी में शामिल होने के कारण पूरी राजधानी के लिए एक खतरा पैदा हो गया है. इस सवाल पर कि क्या कनिका ने हवाई अड्डा कर्मियों को चकमा देकर शहर में प्रवेश किया, उनके पिता राजीव ने कहा कि यह सच नहीं है.