कोलकाता: सीबीआई ने नारद स्टिंग कांड में पहली गिरफ्तारी करते हुए वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा को गुरुवार को हिरासत में लिया. एजेंसी के अधिकारी ने बताया कि मेडिकल जांच के बाद मिर्जा को विशेष सीबीआई अदालत के समक्ष पेश किया गया.

नारद समाचार पोर्टल और मैथ्यू सैम्युअल ने जब यह स्टिंग ऑपरेशन किया था, तब मिर्जा पश्चिम बंगाल स्थित वर्द्धमान जिले के पुलिस अधीक्षक थे.

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, पहले भी हमने कई मौकों पर मिर्जा से पूछताछ की गई थी. आज हमने पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार किया है. वह नारद स्टिंग कांड की प्रमुख कड़ी हैं.

स्टिंग ऑपरेशन के फुटेज वर्ष 2016 में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले सामने आए थे. इसमें तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता से मिलते-जुलते शख्स और मिर्जा को एक फर्जी कंपनी के प्रतिनिधियों से लाभ पहुंचाने के एवज में घूस लेते हुए देखा गया था.