नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के स्वामित्व वाली कंपनियों और बैंक खातों की पहचान करने के लिए पांच देशों से संपर्क किया है. जांच से जुड़े सीबीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने बताया कि पांच देश यूनाइटेड किंगडम, स्विट्जरलैंड, बरमूडा, मॉरीशस और सिंगापुर को पत्र भेजा गया है. चिदंबरम और उनके बेटे के बैंक खातों से जुड़े कथित विवरणों के आधार पर शेल कंपनियों का ब्यौरा मांगा गया है.

एजेंसी की यह कार्रवाई चिदंबरम की गिरफ्तारी के दो दिन बाद हुई है. चिदंबरम को वित्तमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान 305 करोड़ रुपये के विदेशी निवेश प्राप्त में आईएनएक्स मीडिया को 2007 में विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी में कथित अनियमितता बरतने के लिए गिरफ्तार किया गया है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बाद में सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया. सूत्र ने कहा कि एजेंसी को संदेह है कि पिता-पुत्र की जोड़ी ने इन देशों में कई अचल संपत्तियां और 16 से अधिक बैंक खाते रखे हैं.

ईडी मामले में चिदंबरम को मिली अंतरिम राहत, सीबीआई मामले में रहना होगा हिरासत में

छह फुट ऊंची दीवार फांदकर चिदंबरम के घर में घुसे थे सीबीआई अधिकारी
चिदंबरम को बुधवार रात दिल्ली के पॉश जोर बाग इलाके में स्थित उनके आवास से हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद गिरफ्तार किया गया था. सीबीआई अधिकारी उनके आवास में छह फुट ऊंची दीवार फांदकर घुसे थे.दिल्ली की एक अदालत ने चिदंबरम को गुरुवार को सोमवार तक सीबीआई की हिरासत में भेज दिया था.