नई दिल्‍ली: पिछले हफ्ते तीस हजारी कोर्ट में दिल्‍ली पुलिसकर्मियों और वकीलों के बीच झड़प हुई थी. इसका एक वीडियो सामने
आया है. सीसीटीवी के वीडियो फुटेज में सामने आया है कि वकीलों का एक झुंड महिला डीसीपी पर टूट पड़ा और उनकी सर्विस रिवॉल्‍वर भी छीन ली. पीड़ित पुलिस अफसर पहचान डीसीपी नॉर्थ मोनिका भारद्वाज के तौर पर हुई है.

राष्‍ट्रीय महिला आयोग की अध्‍यक्ष ने इसकी निंदा करते हुए कहा कि उन्‍होंने स्‍वत: संज्ञान लिया है इस बारे में बार काउंसिल और दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर को लिखेंगी. वहीं, हाईकोर्ट के निर्देश पर दिल्‍ली पुलिस में तैनात दो आईपीएस अफसरों का ट्रांसफर कर दिया गया है.

वीडियो फुटेट में कुछ पुलिसकर्मी महिला डीसीपी को वकीलों से बचाते हुए दिखाई दे रहे हैं. डीसीपी ने घटना के दौरान अपने साथ
हुई मारपीट के बारे में बताया था और ये भी कहा था कि इस दौरान उनकी 9 एमएम की रिवॉल्‍वर भी छीन ली गई.

राष्‍ट्रीय महिला आयोग की अध्‍यक्ष रेखा शर्मा ने तीस हजारी कोर्ट परिसर में डीसीपी मोनिका भारद्वाज और उनके साथ पुलिसकर्मियों से मारपीट और पीछा किए जाने वाली घटना के सीसीटीवी फुटेज के वीडियो पर कहा है कि मैं इसकी निंदा करती हूं और इस पर स्‍वत: संज्ञान लेते हुए बार काउंसिल और दिल्‍ली पुलिस को लिखूंगी.

हाईकोर्ट ने दो आईपीएस के ट्रांसफर किए
तीस हजारी कांड में दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा हटाए गए दोनों आला अफसरों को केंद्र सरकार ने अस्थाई रूप से नई जगह तैनाती दे दी है. अगली व्यवस्था होने तक विशेष पुलिस (अपराध एवं ईओडब्ल्यू) सतीश गोलचा, संजय सिंह के स्थान पर उत्तरी परिक्षेत्र के विशेष आयुक्त (कानून व्यवस्था) का भी प्रभार संभालेंगे. इस आशय के आदेश गुरुवार को सरकार ने जारी किए.

नई जिम्‍मेदारी में ये हुआ बदलाव
आदेशों के मुताबिक, हाईकोर्ट के आदेशों के अनुपालन में संजय सिंह को उत्तरी परिक्षेत्र के विशेष पुलिस आयुक्त लॉ एंड ऑर्डर पद से हटाकर लाइसेंसिंग और ट्रांसपोर्ट ब्रांच में भेजा गया है, जबकि अब तक उत्तरी जिले के एडिशनल डीसीपी रहे हरेंद्र कुमार को डीसीपी रेलवे बनाया गया है, जबकि रेलवे डीसीपी पद पर तैनात दिनेश गुप्ता हरेंद्र सिंह की जगह उत्तरी दिल्ली जिले के एडिशनल डीसीपी का कामकाज देखेंगे.

बता दें पिछले सप्ताह 2 नवंबर शनिवार को तीस हजारी अदालत परिसर में दिल्ली पुलिस कर्मियों और वकीलों के बीच हुई झड़प में
बीस सुरक्षाकर्मी और कई वकील घायल हो गए थे. इस दौरान महिला डीसीपी की पिस्तौल गायब हो गई थी. कि घटना के बाद से
ही नौ मिमी पिस्तौल लापता थी और उसका पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं.