नई दिल्ली: पूरा देश कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है. देश की इस लड़ाई में हर कोई मदद के लिए आगे आ रहा है. अब कोविड-19 के खिलाफ जंग में मदद के लिए सीडिएस बिपिन रावत आगे आए हैं. बिपिन रावत ने बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि इस मुश्किल दौर वे देश की मदद करना चाहते हैं और इसके लिए वे अपनी सैलरी से 50 हजार रुपए हर महीनें पीएम केयर्स फंड में देंगे. बिपिन रावत एक साल तक यह दान देते रहेंगे. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,008 नए मामले सामने आए, कुल संक्रमित संख्या 1,02,831 हुई; 3,165 की मौत

सेना के सूत्रों के अनुसार सीडिएस जनरल बिपिन रावत में मार्च में अधिकारियों को पत्र लिखकर कहा था कि अगले एक साल तक पीएम केयर्स में उनकी सैलरी से 50 हजार की कटौती कर दान करने को कहा था. Also Read - कोरोना महामारी से मुकाबले के लिए ‘हर्ड इम्यूनिटी’ की संभावना पर संदेह, इस अध्ययन में आई ये बात सामने 

जानकारी के अनुसार इस पत्र के बाद अब उनकी अप्रैल माह की सैलरी से पचास हजार रुपये काट लिए गए हैं जो कि पीएम केयर्स फंड में जमा होंगे. इससे पहले जब मार्च में पीएम केयर्स फंड की शुरुआत हुई थी तो तब भी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत के साथ-साथ सभी सैनिकों ने कोरोना की जंग में मदद के लिए एक दिन की सैलरी फंड में दान के रूप में दी थी.

बताया जा रहा है अब रक्षा मंत्रालय के कर्मचारियों को एक साल तक हर महीनें एक दिन की सैलरी पीएम केयर्स फंड में जमा करने का ऑप्शन दिया गया है. इसमें किसी भी तरह का किसी भी कर्मचारी पर प्रेशर नहीं होगा. यह कर्मचारी की स्वेच्छा पर निर्भर करेगा कि वह दान देना चाहता है या नहीं.