नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने उत्तरप्रदेश, कर्नाटक और असम सहित सात राज्यों को पिछले वर्ष विभिन्न आपदाओं के कारण हुए नुकसान में सहायता के लिए सोमवार को 5908.56 करोड़ रुपये जारी किए. गृह मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय किया गया. बयान में बताया गया कि उच्च स्तरीय बैठक में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया कोष (एनडीआरएफ) से अतिरिक्त केंद्रीय सहायता के तहत सात राज्यों के लिए 5908.56 करोड़ रुपये जारी किए गए. Also Read - कोरोना: ममता बनर्जी का हमला, कहा- पीएम मोदी की वजह से बढ़ी इतनी आपदा, पद छोड़ें

बयान के मुताबिक असम को 616.63 करोड़ रुपये, हिमाचल प्रदेश को 284.93 करोड़ रुपये, कर्नाटक को 1869.85 करोड़ रुपये, मध्यप्रदेश को 1749.73 करोड़ रुपये, महाराष्ट्र को 956.93 करोड़ रुपये, त्रिपुरा को 63.32 करोड़ रुपये और उत्तरप्रदेश को 367.17 करोड़ रुपये 2019 में दक्षिण पश्चिम मॉनसून के दौरान बाढ़ आने या भूस्खलन या बादल फटने के लिए दिए जाएंगे. Also Read - कोरोना के संकट से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें... पीएम मोदी ने बताया

इससे पहले केंद्र सरकार ने चार राज्यों को 3200 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता जारी की थी जिसमें कर्नाटक को 1200 करोड़ रुपये, मध्यप्रदेश को एक हजार करोड़ रुपये, महाराष्ट्र को 600 करोड़ रुपये और बिहार को 400 करोड़ रुपये जारी किए गए थे. सरकार ने 2019-20 के दौरान राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष से 27 राज्यों को 8068.33 करोड़ रुपये जारी किए हैं. Also Read - PM Narendra Modi's Address To Nation Live: पीएम मोदी का बड़ा बयान- देश को लॉकडाउन से बचाना है

बैठक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा गृह, वित्त, कृषि मंत्रालयों और नीति आयोग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

(इनपुट भाषा)