नई दिल्‍ली: देश के करीब 6 राज्यों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. ऐसे में सभी राज्य सरकारें अलर्ट मोड में आ चुकी हैं और जरूरी एहतियात बरत रही हैं. लेकिन मामले की गंभीरत को देखते हए केंद्र सरकार की तरफ से भी बड़ा एक्शन लिया गया है. इस मामले में केंद्र सरकार ने एक कंट्रोल रूम तैयार करवाया है. ताकि सभी राज्य कंट्रोल रूम से संपर्क में रह सकें और जरूरी जानकारी साझा की जा सके.Also Read - 7th Pay Commission: नए साल से पहले सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, राज्य सरकारें भी कर रही हैं वेतन में बढ़ोतरी

बता दें कि मध्य प्रदेश और कर्नाटक में भी लगातार बर्ड फ्लू के मामले सामने आ रहे हैं. मध्य प्रदेश में फ्लू के सबसे ज्यादा मामले देखने को मिले हैं. यहां हजारों पक्षियों की मौत हो गई है, इनमें कौवों में वायरस भी मिले हैं. बता दें बिगड़ रहे हालात के मद्देनजर इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई है. बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा मध्य प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, केरल में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद दिल्ली में कंट्रोल रूम बनवाया गया है. ताकि ऐसे मामलों पर नजर रखी जा सके. Also Read - Farm Bill Repeal Latest Update: बड़ी खुशखबरी-बुधवार को वापस लिए जाएंगे कृषि कानून! मोदी कैबिनेट देगी मंजूरी

वहीं कर्नाटक सरकार की तरफ से राज्य की सीमाओं से सटे 4 राज्यों को अलर्ट जारी कर दिया है. भारत में अबतक मध्य प्रदेश, राजस्थान, इंदौर, केरल और गुजरात समेंत कई राज्यों में बर्ड फ्लू के मामले देखने को मिले हैं. अबतक कुल 10 राज्यों में अलर्ट भी जारी किया जा चुका है. Also Read - Delhi Pollution को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जताई नाराजगी, कहा-ब्यूरोक्रैट्स इसके लिए कुछ करना ही नहीं चाहते...

क्या है बर्ड फ्लू (Bird Flu)

बर्ड फ्लू की बीमारी Avian Influenza वायरस H5N1 से होती है. यह वायरस पक्षियों के माध्यम से इंसानों तक फैलता है, विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक बर्ड फ्लू के इंफेक्शन का एक इंसान से दूसरे इंसान में पहुंचना मुश्किल है लेकिन यह पहुंचता है और यह जानलेवा भी है. इस वायरस से संक्रमित लोगों की मृत्युदर 60 फीसदी है.