नई दिल्ली: केंद्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय ने मंगलवार को स्पष्ट किया कि सरकार ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) तैयार करने को लेकर अभी तक कोई फैसला नहीं किया है. राय ने यह स्पष्टीकरण एनआरसी की तैयारियों के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में दिया.

लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक सवाल के लिखित जवाब में उन्होंने कहा कि अबतक, राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय नागरिकों के लिए एनआरसी तैयार करने को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. यह सवाल सांसद चंदन सिंह और नागेश्वर राव ने पूछा. हालांकि एनपीआर पर पूछे गए सवाल पर लिखित जवाब में, मंत्री ने कहा कि एनपीआर अपडेट करने के दौरान कोई दस्तावेज नहीं लिया जाएगा. लोगों से केवल यह उम्मीद की जाएगी कि वे अपनी जानकारी और भरोसे के अनुसार सही सूचना उपलब्ध कराएं.

Delhi Assembly Election 2020: दिल्ली में 100 साल से ज़्यादा उम्र के 150 मतदाता

प्रत्येक परिवार से लिए जाएंगे जनसांख्यिकी और अन्य विवरण
उन्होंने कहा कि प्रत्येक परिवार से और व्यक्तिगत रूप से जनसांख्यिकी और अन्य विवरण लिए जाएंगे या अपडेट किए जाएंगे. इसके लिए कोई दस्तावेज नहीं लिया जाएगा. आधार संख्या को स्वैच्छिक रूप से एकत्र किया जाएगा. इसके अलावा इस कार्य के दौरान ऐसे किसी भी नागरिक का पता लगाने की कोशिश नहीं की जाएगी, जिनकी नागरिकता संदेहपूर्ण है. मंत्री ने इसके साथ ही कहा कि सरकार एनपीआर की तैयारी से संबंधित राज्यों की चिंता के संबंध में उनसे चर्चा कर रही है.