पटना| बिहार के राजनीतिक गलियारे में सनसनी मचाने वाली खबर है. खबर के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की Z+ सिक्योरिटी हटा ली गई है. इसके अलावा एक खबर यह भी है कि बिहार के एक और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की सुरक्षा भी कम कर दी गई है. उनकी सुरक्षा में तैनात सीआरपीएफ जवानों की संख्या कम कर दी गई है. लालू की सुरक्षा के बारे में पता नहीं लग पाया कि इसके बाद उनके सुरक्षा की क्या कैटेगरी रहने वाली है. Also Read - Ideal House Rent Act: केंद्र सरकार जल्द लाएगी आदर्श किराया कानून, जानिए- क्या इससे रुकेगा नई झोपड़पट्टियां बांधने का काम

इससे पहले जुलाई में केंद्र सरकार ने पूर्व मुख्‍यमंत्री लालू यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी को पटना एयरपोर्ट पर मिली विशेष सुविधा को समाप्‍त कर दिया. राबड़ी भी मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. एयरपोर्ट की जिस सुविधा को उनसे वापस लिया गया है उसमें लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी को पटना एयरपोर्ट पर सीधे वाहन के जरिए हवाई पट्टी पर विमान तक जाने की मिली सुविधा थी. Also Read - एक जनवरी से बदल जाएगा आपका मोबाइल नंबर, 10 के बदले 11 डिजिट होंगे, जानिए

केंद्रीय गृह मंत्रालय की तरफ से सुरक्षा वापसी का आदेश रविवार को प्राप्त हुआ है. अभी तक लालू की सुरक्षा में Z+ केटेगरी के तहत नेशनल सिक्यूरिटी गार्ड (एनएसजी) कमांडो तैनात रहते थे. सूत्रों के अनुसार लालू को अब Z केटेगरी की सुरक्षा मिल सकती है. Also Read - रांची से बैठे-बैठे लालू कर रहे डीलिंग-एब्सेंट हो जाओ, तुमको आगे बढ़ा देंगे, Audio हुआ Viral

माना जा रहा है कि बीजेपी के साथ अन-बन के चलते मांझी को नुकसान हो गया. मांझी गया में बेहद नक्सल प्रभावित इलाके से आते हैं. ऐसे में उनकी सुरक्षा को हमेशा जरुरी माना जाता रहा है.