आंध्र प्रदेश. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की एक रिपोर्ट के अनुसार आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू 177 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ देश के सबसे अमीर मुख्यमंत्री हैं. उनके बाद अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू हैं जिनकी कुल संपत्ति 129 करोड़ रुपये से ज्यादा है और तीसरे नंबर पर हैं पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह जिनकी कुल संपत्ति 48 करोड़ रुपये से ज्यादा है. राजनीतिक दलों पर निगाह रखने वाले संगठन एडीआर और नेशनल इलेक्शन वाच (न्यू) के साथ मिलकर किए गए सर्वे में ये बात सामने आई है.

एडीआर ने इस रिपोर्ट के लिए चुनाव के समय इन मुख्यमंत्रियों द्वारा दाखिल किए गए हलफनामे को आधार बनाया है. रिपोर्ट के अनुसार देश में सबसे कम संपत्ति वाले मुख्यमंत्री त्रिपुरा के मणिक सरकार है जिनकी कुल संपत्ति 27 लाख रुपए है. उनके बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हैं जिनकी कुल संपत्ति 30 लाख रुपये से ज्यादा है और तीसरे नंबर पर हैं जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती जिनकी कुल संपत्ति लगभग 56 लाख रुपए है.

रिपोर्ट में ये भी पता लगा है कि भारत के 31 मुख्यमंत्रियों में से 11 पर यानि करीब 35% मुख्यमंत्रियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं और 81 फीसदी मुख्यमंत्री करोड़पति हैं. इसमें से 26 फीसदी के खिलाफ हत्या, हत्या की कोशिश, धोखाधड़ी जैसे इत्यादि गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इसी प्रकार 25 मुख्यमंत्रियों यानि 81 फीसदी करोड़पति हैं. इनमें से दो मुख्यमंत्रियों के पास 100 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति है. मुख्यमंत्रियों की औसत संपत्ति 16.18 करोड़ रुपये है.

शिक्षा के मामले में 31 में 10 प्रतिश्त मुख्यमंत्री मात्र 12वीं पास हैं जबकि 39 फीसदी मुख्यमंत्री ग्रेजुएट हैं. 16 प्रतिश्त मुख्यमंत्री पोस्ट ग्रेजुएट हैं और मात्र 3 फीसदी को डाक्टरेट की डिग्री हासिल है.