विजयवाड़ाः चंद रोज पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री पद से हटने वाले एन चंद्रबाबू नायडू को शुक्रवार देर रात यहां गन्नवरम हवाई अड्डे पर तलाशी से गुजरना पड़ा. विधानसभा चुनाव में तेलुगू देशम पार्टी की हार के बाद नायडू अब राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं. नायडू को विमान तक जाने के लिए वीआईपी सुविधा से भी वंचित कर दिया गया और आम यात्रियों के साथ बस में यात्रा करनी पड़ी. एक सुरक्षा गार्ड को सुरक्षा प्रवेश द्वार पर नायडू की तलाशी लेते देखा गया. Also Read - आंध्र प्रदेशः CM जगन मोहन रेड्डी ने CJI को लिखा 8 पन्नों का पत्र, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जज पर लगाए गंभीर आरोप

तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख को विमान तक वीआईपी वाहन से पहुंचने की अनुमति भी नहीं दी गई. इस घटना पर तेदेपा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की, और आरोप लगाया गया कि भाजपा और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) बदले की राजनीति कर रही है. Also Read - आंध्र प्रदेश : सड़क दुर्घटना में पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू बाल-बाल बचे

तेदेपा नेता व राज्य के पूर्व गृह मंत्री चिन्ना राजप्पा ने कहा कि अधिकारियों का रवैया न केवल अपमानजनक था, बल्कि उन्होंने नायडू की सुरक्षा के साथ भी समझौता किया क्योंकि उन्हें ‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है. उन्होंने कहा कि नायडू को कभी भी इस स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा. उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार से नायडू की उचित सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की. Also Read - आंध्रप्रदेश में TDP का सूपड़ा साफ करेगी भाजपा, दर्जनभर से ज्यादा विधायक छोड़ सकते हैं पार्टी

(इनपुट-आईएएनएस)