हैदराबाद। तेलंगाना राष्ट्र समिति सुप्रीमो के चंद्रशेखर राव ने आज विधानसभा भंग करने के साथ ही ऐलान किया कि उनकी पार्टी अकेले ही मैदान पर उतरेगी. इसी के साथ उन्होंने साफ कर दिया कि बीजेपी से उनका कोई समझौता नहीं होने जा रहा है. तेलंगाना में 199 विधानसभा सीटें हैं और राव को भरोसा है कि वह समय से पहले चुनाव करवाकर दोबारा सत्ता में वापसी कर सकते हैं. Also Read - राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, बोले- अचानक बंद होने से भय और भ्रम पैदा हो गया है

चंद्रशेखर राव ने आज प्रेस कांफ्रेंस के दौरान साफ कर दिया कि वह बीजेपी से गठजोड़ करने नहीं जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि टीआरएस 100 फीसदी सेकुलर पार्टी है तो हम कैसे बीजेपी के साथ कैसे हाथ मिला सकते हैं? साथ ही उन्होंने कहा कि हम चुनाव में अकेले ही उतरने जा रहे हैं लेकिन इसमें संदेह नहीं कि एमआईएम हमारी दोस्त है.

तेलंगाना में जल्द हो सकते हैं विधानसभा चुनाव

इसके साथ ही राव ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर भी जोरदार वार किए. उन्होंने राहुल गांधी को मसखरा करार दिया. राव ने कहा, हर कोई जानता है कि राहुल गांधी देश के सबसे बड़े मसखरे हैं. पूरे देश ने देखा कि लोकसभा में वह किस तरह पीएम नरेंद्र मोदी से गले मिले और किस तरह उन्होंने आंख मारी. वह हमारे लिए फायदेमंद हैं, वह जितना तेलंगाना आएंगे, हम उतनी ही ज्यादा सीटें जीतेंगे.

उन्होंने कहा, राहुल गांधी को कांग्रेस सल्तनत विरासत में मिली है, वह दिल्ली के कांग्रेस साम्राज्य के उत्तराधिकारी हैं. इसीलिए मैं लोगों से अपील करता हूं कि हमें कांग्रेस का गुलाम नहीं बनना है, दिल्ली का गुलाम नहीं बनना है. तेलंगाना का निर्णय तेलंगाना में होना चाहिए.

राव ने कहा कि 2014 से पहले तेलंगाना में कई मुद्दे थे, जैसे कि बम धमाके, बिजली का मुद्दा, सांप्रदायिक हिंसा, लेकिन अब पूरी तरह शांत है. मैं कांग्रेस नेताओं से कहता हूं कि वो तेलंगाना आएं और मैदान पर चुनाव लड़े, जनता करारा जवाब देगी.