Uttarakhand, Char Dham Yatra, COVID-19,Tirath Singh Rawat, News: उत्‍तराखंड सरकार ने आज गुरुवार को राज्‍य में कोविड मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए चारधाम की यात्रा को स्थगित कर दिया है. पूरे देश के लोगों के लिए चारधाम यात्रा को अभी के लिए बंद कर दिया गया है. अब वहां केवल पुजारी ही वहां पूजा कर सकते हैं. उत्तराखंड में कोरोना की दूसरी लहर में तेजी से बढ़ते मामलों का असर आगामी चारधाम यात्रा पर भी पड़ा. बता दें कि चारधाम यात्रा अगले माह 14 मई को अक्षयतृतीया के पर्व से शुरू होना थी. इस मौके पर उत्तरकाशी जिले में स्थित गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिरों के कपाट 6 माह के शीतकालीन प्रवास के बाद आम श्रद्धालुओं के लिए खोले जाने थे.Also Read - सऊदी अरब में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले, भारत समेत इन देशों में यात्रा करने पर लगा प्रतिबंध

Also Read - अब सऊदी अरब नहीं जा पाएंगे इन 15 देशों के टूरिस्ट, जानिए वजह

बता दें कि उत्‍तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 6,054 मामले सामने आए और 108 रोगियों की मौत हो गई है. वहीं, भारत में आज गुरुवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 3,79,257 मामले दर्ज किए गए और एक दिन में 3,645 लोगों की मौत होने के बाद इस घातक बीमारी के मृतकों की संख्या 2,04,832 हो गई है. Also Read - कोरोना से हुई मौत के विवादित आंकड़े का मुद्दा WHO के सामने उठाएगा भारत

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा, ”प्रदेश में कोविड मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए चारधाम की यात्रा को स्थगित किया जाता है। केवल पुजारी ही वहां पूजा कर सकते हैं. पूरे देश के लोगों के लिए चारधाम यात्रा को अभी के लिए बंद किया जाता है.

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 6, 054 नए मामले सामने आए, 108 रोगियों की मौत
उत्तराखंड में बुधवार कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 6,054 मामले सामने आए और 108 रोगियों की मौत हो गई. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या 1,68,616 हो गई है. देहरादून में सबसे अधिक 2,329 मामले सामने आए हैं, जबकि हरिद्वार में 1178, उधमसिंह नगर जिले में 849, नैनीताल में 665, चमोली में 175, पौड़ी में 174, चंपावत में 153, अल्मोड़ा में 140, बागेश्वर में 128, टिहरी में 109 लोग संक्रमित पाए गए हैं. इसके अलावा, प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में रिकार्ड 108 कोरोना संक्रमितों ने दम तोड़ दिया, जिसके साथ ही महामारी से मरने वालों की संख्या 2,417 हो गई. प्रदेश में उपचाराधीन रोगियों की संख्या 45,383 हैं जबकि 1,17,221 मरीज अब तक संक्रमण से उबर चुके हैं.

भारत में एक दिन में रिकॉर्ड 3. 79 लाख से ज्‍यादा मामले दर्ज, 3,645 लोगों की मौत
भारत में बृहस्पतिवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 3,79,257 मामले दर्ज किए गए,जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले 1,83,76,524 हो गए है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक उपाचाराधीन मरीजों की संख्या 30 लाख के पार पहुंच गई है. सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में 3,645 लोगों की मौत होने के बाद इस घातक बीमारी के मृतकों की संख्या 2,04,832 हो गई है.

देश में एक्‍ट‍िव मरीजों की संख्या 30,84,814 हो गई है
लगातार मामले बढ़ने के बीच, देश में एक्‍ट‍िव मरीजों की संख्या 30,84,814 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.79 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर घटकर 82.10 प्रतिशत हो गई है. आंकड़ों के मुताबिक बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 1,50,86,878 हो गई है. संक्रमण से मौत होने की दर घटकर 1.11 प्रतिशत हो गई है. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक 28 अप्रैल तक 28,44,71,979 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 17,68,190 नमूनों की बुधवार को जांच की गई.

महाराष्ट्र में एक दिन में सर्वाधिक 1,035 मौत
मौत के नए मामलों में, सर्वाधिक 1,035 मौत महाराष्ट्र में, दिल्ली में 368, छत्तीसगढ़ में 279, उत्तर प्रदेश में 265, कर्नाटक में 229, गुजरात में 174, झारखंड में 149, पंजाब में 142, राजस्थान में 120, उत्तराखंड में 108 और मध्य प्रदेश में 105 लोगों की मौत हो गई.

भारत में अब तक 2,04,832 मौतें
देश में अब तक हुई कुल 2,04,832 मौत में से 67,124 महाराष्ट्र में, 15,337 दिल्ली में, 15,036 लोगों की कर्नाटक में, 13,826 की तमिलनाडु में, 11,934 उत्तर प्रदेश में, 11,159 लोगों की पश्चिम बंगाल में, 8,772 की पंजाब में, 8,061 लोगों की छत्तीसगढ़ में मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मौत अन्य गंभीर बीमारियों के कारण हुई है.