चेन्नई। शहर के एक अस्पताल में पिछले दस दिन से भर्ती द्रमुक अध्यक्ष एम. करुणानिधि का स्वास्थ्य पहले के मुकाबले खराब हुआ है और उनके महत्वपूर्ण अंगों की कार्यक्षमता को बनाए रखना चुनौतीपूर्ण साबित हो रहा है. इस बीच परिजनों का उनसे मिलने का सिलसिला जारी है. उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जैसे कई बड़े नेता पहले ही उनका हालचाल लेने अस्पताल जा चुके हैं. लेकिन वह बोलने की स्थिति में भी नहीं हैं. इस बीच उनके समर्थकों में उनके स्वास्थ्य को लेकर बेहद चिंता है और दुआओं का दौर जारी है. अस्पताल के बाहर भी समर्थकों की भीड़ मौजूद है और भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है.

अस्पताल का मेडिकल बुलेटिन जारी

कावेरी अस्पताल ने एक बयान जारी कर कहा कि 94 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी की जा रही है और वह मेडिकल सपोर्ट पर हैं. उसके अनुसार, द्रमुक अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि का स्वास्थ्य बिगड़ा है. ज्यादा उम्र होने के कारण उनके शरीर के महत्वपूर्ण अंगों की कार्यक्षमता को बनाए रखना चुनौती साबित हो रही है.

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर अरविन्दन सेल्वाराज ने विज्ञप्ति में कहा, द्रमुक अध्यक्ष के स्वास्थ्य की लगातारी निगरानी की जा रही है और वह मेडिकल सपोर्ट पर हैं. अगले 24 घंटों में उनके स्वास्थ्य में कितना सुधार आता है, इसी से आगे की चीजें तय होंगी. करुणानिधि को रक्तचाप की समस्या के बाद 28 जुलाई को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हालांकि रक्तचाप की समस्या पर डॉक्टरों ने पार पा लिया, लेकिन स्वास्थ्य में गिरावट के कारण वह अभी तक अस्पताल में हैं.

करुणानिधि अस्‍पताल में, सदमे ने ली 21 द्रमुक समर्थकों की जान, स्‍टालिन ने जताया दुख

द्रमुक प्रमुख की पत्नी दयालु अम्मल भी सोमवार को दिन में उनसे मिलने अस्पताल पहुंचीं. 28 जुलाई से अभी तक वह पहली बार पति से मिलने आई थीं. अम्मल व्हीलचेयर से अस्पताल पहुंचीं. सामान्य तौर पर इस व्हीलचेयर का इस्तेमाल करुणानिधि करते थे. बढ़ती उम्र के कारण अम्मल का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं रह रहा है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित अन्य कई नेता अस्पताल जाकर करुणानिधि के स्वास्थ्य की जानकारी ले चुके हैं.