चेन्नई: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने बृहस्पतिवार को भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR), संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और देश भर में NRC के साथ वह ‘किसी तरह हिंदू राष्ट्र’ परियोजना लागू करना चाहती है. वामपंथ समर्थित संगठन की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने जर्मनी के एक छात्र जैकब लिंदेनतल को CAA के खिलाफ एक प्रदर्शन में हिस्सा लेने के बाद भारत छोड़कर जाने का निर्देश दिए जाने के मामले में आईआईटी मद्रास के निदेशक की भी निंदा की. Also Read - West Bengal: PM मोदी के पहुंचने से पहले बवाल, हावड़ा में BJP कार्यर्ताओं पर हमला, TMC वर्कर्स पर आरोप

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेकर छात्र ने वस्तुत: हमें यह याद दिलाया कि आईआईटी मद्रास जर्मनी की सरकार की मदद से बनी थी. हमें यह याद कराने के लिए उसे धन्यवाद कहना चाहिए. लेकिन उसे देश छोड़कर जाने के लिए कह दिया गया. आईआईटी निदेशक कहां गए? क्या वह सेवानिवृत्त हैं? क्या वह छुट्टी पर हैं? या मर गए हैं. इस कार्यक्रम में माकपा नेता प्रकाश करात और सांसद कनिमोई ने भी हिस्सा लिया. चिदंबरम ने इसमें कहा कि भाजपा सरकार जब से बड़े जनमत के साथ सत्ता में आई है वह NPR, CAA और NRC जैसे विषयों पर ध्यान केंद्रित कर रही है. Also Read - सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती: गृह मंत्री अमित शाह ने नेताजी को दी श्रद्धांजलि, कही ये बात

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वे किसी तरह से हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं. अगर हिंदू राष्ट्र लागू हुआ तो इससे न केवल मुस्लिमों का नुकसान होगा बल्कि दलितों का नुकसान भी होगा. उन्होंने कहा कि देशभर में हो रहे CAA के खिलाफ प्रदर्शनों को सरकार बनाम मुस्लिम की तरह नहीं देखना चाहिए क्योंकि सरकार तो यही चाहती है. Also Read - बिहार में सोशल मीडिया पोस्ट वाले आदेश पर बवाल, तेजस्वी ने नीतीश को बताया- भ्रष्टाचार का भीष्म पितामह