आम आदमी पार्टी में मचे घमासान और सवालों के घेरे में घिरे दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कपिल शर्मा द्वारा लगाए गए गंभीर आरोपों के बाद पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए पलटवार किया है। केजरीवाल ने अपने ऊपर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों पर चुप्पी तोड़ते हुए एक सम्मेलन में कहा कि उनके ऊपर बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे हैं।

केजरीवाल ने न सिर्फ चुप्पी तोड़ी बल्कि सत्येंद्र जैन का बचाव भी किया। केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन का बचाव करते हुए कहा कि जैन ने कोई चोरी नहीं की है। उन्होंने कहा कि जब अपने धोखा देते है तो दुख बहुत होता है।

इन आरोपों पर केजरीवाल ने अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी। केजरीवाल ने आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि मेरे खिलाफ बहुत आरोप लगे, बेबुनियाद आरोप लगे। कोई सबूत नही, सिर्फ कीचड़ फेंका गया। सारी जांच एजेंसी मेरे ऊपर छोड़ दी लेकिन इन्हें कुछ नही मिला। अगर मेरे खिलाफ इन्हें कुछ मिल जाता तो आपके सामने खड़ा नही होता।

इसके बाद केजरीवाल ने कहा कि सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया ने कोई चोरी नहीं की, आरोपों में रत्ती भर भी सच्चाई होती तो सब जेल में होते। केजरीवाल ने दावा किया है कि दिल्ली नगर निगम चुनाव के दौरान विपक्ष ने 16 हजार की थाली और 97 करोड़ के विज्ञापन का झूठ फैलाया।

गौरतलब है कि केजरीवाल सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा कहा था कि उन्होंने केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ लेते देखा था। कपिल ने केजरीवाल पर सरकारी ठेकों में अपने संबंधियों को लाभ पहुंचाने का आरोप भी लगाया था।