नई दिल्ली: प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को अरुणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा के निकट अग्रिम इलाकों में स्थित विभिन्न वायुसेना अड्डों का दौरा कर भारत के पश्चिमी क्षेत्र में सुरक्षा हालात जायजा लिया. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी.Also Read - CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर, ले. कर्नल हरजिंदर सिंह समेत इन मृतकों की फोटोज जारी

सूत्रों ने कहा कि जनरल रावत ने अरुणाचल प्रदेश की दिबांग घाटी और लोहित सेक्टर समेत विभिन्न अड्डों पर तैनात सेना, आईटीबीपी और विशेष सीमांत बल (एसएफएफ) के सैनिकों से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि प्रमुख रक्षा अध्यक्ष ने प्रभावी निगरानी बनाए रखने और अभियानगत तैयारियां बढ़ाने के वास्ते अभिनव कदम उठाने के लिये सैनिकों की सराहना की. Also Read - CDS Bipin Rawat Death: सीडीएस रावत के निधन पर अमेरिका, रूस, पाकिस्तान और अन्य देशों ने जताया शोक

सूत्रों के अनुसार, जनरल रावत ने कहा कि ऐसी ‘चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों’ में केवल भारतीय सैनिक ही सतर्क रह सकते हैं और सीमाओं की सुरक्षा के लिये हमेशा अपने कर्तव्यों से आगे बढ़कर काम करने के लिए तत्पर रहे हैं. सूत्रों ने सीडीएस के हवाले से कहा, ‘भारतीय सशस्त्र बलों को उनके कर्तव्यों को लेकर दृढ़ संकल्प रहने से कोई चीज नहीं रोक सकती. ‘ Also Read - जनरल बिपिन रावत के निधन पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने जताया दुख, तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा

(इनपुट भाषा)