Child Pornography: केरल पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने और इसे इंटरनेट पर साझा करने के आरोप में एक डॉक्टर और IT पेशेवरों सहित 41 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस ‘ऑपरेशन पी-हंट’ के लिए इंटरपोल के साथ हाथ मिलाया था. इसी के मद्देनजर पुलिस टीम ने केरल में 46 स्थानों पर छापे मारे और सोमवार को 339 मामले दर्ज किए. Also Read - Kerala Local Body Polls: केरल में स्थानीय निकाय के चुनावों की तारीख घोषित, ये रहें वोटिंग के डेट

आरोपी डॉक्टर को पठानमथिट्टा जिले से हिरासत में लिया गया. जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया, उन पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी कंटेंट डाउनलोड करने के साथ-साथ वेब और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इसे पोस्ट करने का आरोप है. इस मामले में त्रिशूर पुलिस ने 30 वर्षीय आशिकी को व्हाट्सएप पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी साझा करने के आरोप में गिरफ्तार किया. इसी मामले में त्रिशूर के वडक्ककेकाड के एक अन्य व्यक्ति इकबाल को गिरफ्तार किया गया.

पूरे ऑपरेशन का समन्वय अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मनोज अब्राहम ने कई घंटों में किया. अब्राहम ने मीडिया को बताया, ‘आईटी पेशेवर और एक चिकित्सक सहित कई पेशेवर, चाइल्ड पोर्नोग्राफी देख रहे थे और फैला रहे थे और पुलिस कई दिनों से मामले की निगरानी कर रही थी.’ कई व्यक्तियों और परिवारों से बाल पोर्नोग्राफी की शिकायतें आई हैं.

पिछले दो वर्षो में की गई छापेमारी में 525 मामले दर्ज किए गए और केरल में 428 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

(इनपुट: ANI, IANS, )