श्रीनगर: कश्मीर में भारी बर्फबारी के बिना ही 40 दिन का ‘चिल्लई कलां’ बुधवार को खत्म हुआ. घाटी में रात के समय न्यूनतम तापमान में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई. ‘चिल्लई कलां’ के दौरान सबसे अधिक बर्फबारी होने की संभावना रहती है. इसबार इसकी शुरुआत और अंत दोनों के दौरान मूसलधार बारिश हुई. पिछले चार दशक में यह सबसे शुष्क कालों में से एक रहा.Also Read - Amit Shah ने Pulwama terror attack में शहीद 40 CRPF जवानों को दी श्रद्धांजलि

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि पहलगाम और गुलमर्ग के अलावा घाटी के सभी मौसम केन्द्रों पर न्यूनतम तापमान हिम बिंदू से ऊपर दर्ज किया गया. Also Read - अमित शाह ने बुलेट प्रूफ ग्लास हटवाने के बाद दिया भाषण, पाक के बजाय, जम्मू-कश्मीर के युवाओं से बात करेंगे

अधिकारी ने बताया कि मशहूर स्की रिजॉर्ट गुलमर्ग में तापमान 0 से 3.6 डिग्री सेल्सियस नीचे और स्वास्थ्य रिजॉर्ट पहलगाम में न्यूनतम तापमान 0 से 2.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. लद्दाख के करगिल में लगातार तीसरी रात न्यूनतम तापमान 0 से 15.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. निकटवर्ती लेह में न्यूनतम तापमान 0 से 7.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह ने आगे बढ़ाया अपना जम्मू-कश्मीर दौरा, पुलवामा में CRPF के साथ बिताएंगे रात