श्रीनगर: कश्मीर में भारी बर्फबारी के बिना ही 40 दिन का ‘चिल्लई कलां’ बुधवार को खत्म हुआ. घाटी में रात के समय न्यूनतम तापमान में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई. ‘चिल्लई कलां’ के दौरान सबसे अधिक बर्फबारी होने की संभावना रहती है. इसबार इसकी शुरुआत और अंत दोनों के दौरान मूसलधार बारिश हुई. पिछले चार दशक में यह सबसे शुष्क कालों में से एक रहा.Also Read - श्रीनगर में कैसे पहुंचे 7 चीनी हथगोले? सीआरपीएफ ने एनएच 44 से किए बरामद

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि पहलगाम और गुलमर्ग के अलावा घाटी के सभी मौसम केन्द्रों पर न्यूनतम तापमान हिम बिंदू से ऊपर दर्ज किया गया. Also Read - Jammu and Kashmir: बारामुला में बादल फटने से चार लोगों की मौत, एक लापता

अधिकारी ने बताया कि मशहूर स्की रिजॉर्ट गुलमर्ग में तापमान 0 से 3.6 डिग्री सेल्सियस नीचे और स्वास्थ्य रिजॉर्ट पहलगाम में न्यूनतम तापमान 0 से 2.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. लद्दाख के करगिल में लगातार तीसरी रात न्यूनतम तापमान 0 से 15.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. निकटवर्ती लेह में न्यूनतम तापमान 0 से 7.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. Also Read - Jammu & Kashmir: आर्मी और पुलिस ने रजौरी जिले में घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया