नई दिल्ली: चीन ने कैलाश मानसरोवर यात्रा करने वाले भारतीय तीर्थयात्रियों को वीजा दिये हैं. चीनी दूतावास के सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी. ऐसी खबर आयी थी कि चीन सरकार ने भारत द्वारा लद्दाख को केंद्रशासित क्षेत्र बनाये जाने पर भारतीयों के एक समूह को वीजा देने में देरी की.

 

चीनी दूतावास के एक सूत्र ने कहा कि कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए भारतीय तीर्थयात्रियों को पहले की भांति चीनी वीजा दिया गया. उसमें कहीं कोई दिक्कत नहीं आयी. चीन के तिब्बत क्षेत्र में कैलाश मानसरोवर की यात्रा को हिंदुओं में बड़ा पावन माना जाता है. हर साल सैंकड़ों भारतीय इस यात्रा पर जाते हैं जिसमें दुर्गम रास्तों से ट्रैकिंग कर जाना होता है. मंगलवार को चीन ने पृथक लद्दाख केंद्रशासित प्रदेश बनाये जाने के भारत के फैसले पर ऐतराज किया था और कहा था कि उसे कश्मीर की वर्तमान स्थिति को लेकर गंभीर चिंता है.

Kailash Mansarovar Yatra 2019: पंजीकरण शुरू, जानें लास्‍ट डेट, यात्रा से जुड़ी हर डिटेल…

लेकिन भारत ने चीन के ऐतराज को खारिज कर दिया और इसे देश का अंदरूनी मामला बताया. सरकार ने अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया है जो जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देता है. इसी के साथ सरकार ने राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों-जम्मू कश्मीर और लद्दाख में बांट दिया.