नई दिल्ली| मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी ने स्मार्टफोन बनाने वाली 21 कंपनियों को नोटिस जारी किया है. सरकार को शक है कि ये कंपनियां अपने स्मार्टफोन्स के जरिए भारत के ग्राहकों की पर्सनल जानकारियां चुरा रही हैं.

सरकान ने जिन कंपनियों को आदेश जारी किया है उसमें मुख्य रूप से चीनी कंपनियां हैं. इसमें वीवो, ओप्पो, शियोमी और जियोनी जैसी कंपनियों के नाम शामिल हैं. इसके अलावा ऐपल, सैमसंग और भारत की ही कंपनी माइक्रोमैक्स भी उन 21 कंपनियों में शामिल हैं जिनको सरकार ने नोटिस जारी किया है.

सुरक्षा प्रक्रियाओं को साझा करने की अंतिम तिथि 28 अगस्त रखी गई है. कंपनियों को सुरक्षा की प्रक्रिया के लिहाज से जो जानकारी साझा करनी है. उनमें डिवाइस, उनके ऑपरेटिंग सिस्टम, प्री-लोडेड ऐप्स और डिवाइस के ब्राउजर की जानकारियां शामिल हैं.

आईटी मंत्रालय ने कई स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों से भारतीय ग्राहकों का डाटा विदेशी सर्वर पर जाने पर चिंता जताई है. खासकर चीन की मोबाइल कंपनियों के सर्वर चीन में हैं.

मंत्रालय जानना चाहता है कि हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के स्तर पर कौन से सुरक्षा मानक अपनाए जा रहे हैं. मंत्रालय ने हैंडसेंट बनाने वाली कंपनियों से 28 अगस्त तक जानकारी देने को कहा है.