नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष रामविलास पासवान पार्टी का दारोमदार अपने बेटे चिराग पासवान को सौंप दिया है और इसकी औपचारिक घोषणा मंगलवार को दी गई है. बता दें कि 73 वर्षीय रामविलास पासवान ने साल 2000 में लोजपा की स्थापना की थी. केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के पूर्व अध्यक्ष रामविलास पासवान ने कहा, ”मुझे उम्मीद है कि चिराग के नेतृत्व में पार्टी आगे बढ़ेगी. आगे पार्टी को और मजबूत किया जाएगा.”

पार्टी सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में लोजपा के अध्यक्ष के रूप में चिराग पासवान को पदभार सौंपा गया है. सूत्रों ने कहा कि रामविलास पासवान पार्टी के संस्थापक-संरक्षक होंगे और उनके बेटे अध्यक्ष पद संभालेंगे.

एलजेपी ने अपनी राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक 12 जनपथ में स्थित रामविलास पासवान के आवास पर आयोजित की. इस बैठक में पार्टी के राज्य प्रमुख भी शामिल हुए. आयोजित बैठक में पार्टी के नए प्रमुख के रूप में चिराग पासवान के नाम पर आम सहमति बनी.