Chopper Crash Update: तमिलनाडु के कुन्नूर के पास बुधवार को हुए हेलीकॉप्टर हादसे में अकेले जीवित बचे भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Group Captain Varun Singh) को बेहतर इलाज के लिए बेंगलुरु स्थानांतरित किया जा रहा है. वरुण सिंह के पिता कर्नल (सेवानिवृत्त) केपी सिंह ने गुरुवार को बताया कि उनके बेटे वरुण को तमिलनाडु के वेलिंगटन स्थित सैन्य अस्पताल से बेंगलुरु के एक अस्पताल में स्थानांतरित किया जा रहा है. इस हादसे में देश के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत सहित 13 लोगों की मृत्यु हो गई थी. भोपाल के रहने वाले ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के पिता कर्नल (सेवानिवृत्त) केपी सिंह ने कहा, ‘उन्हें (वरुण को) बेंगलुरु शिफ्ट (स्थानांतरित) किया जा रहा है. मैं वेलिंगटन पहुंच गया हूं.’Also Read - Beating Retreat Ceremony 2022: PM मोदी, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह होंगे शामिल, 1000 ड्रोन के साथ होगा लाइट शो

वरुण सिंह की हालत के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘अभी मैं उनकी स्थिति के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता पाऊंगा.’ यहां एयरपोर्ट रोड पर ‘सन सिटी’ स्थित केपी सिंह के आवास के पड़ोस में रहने वाले लेफ्टिनेंट कर्नल (सेवानिवृत्त) ईशान आर ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ठीक हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि जब बुधवार को यह दुर्भाग्यपूर्ण खबर केपी सिंह को मिली तब वह और उनकी पत्नी उमा अपने छोटे बेटे तनुज के मुंबई स्थित घर में थी. तनुज नौसेना में लेफ्टिनेंट कमांडर हैं. Also Read - Bharat Biotech: Covaxin बनाने वाले Dr. Krishna Ella की क्या है पूरी कहानी; Must Watch

ईशान ने कहा, ‘मैंने आज सुबह कर्नल के पी सिंह से बात की। उन्होंने मुझसे कहा कि उनका बेटा फाइटर (योद्धा) है और वह इस संकट को भी पार कर लेगा.’ उन्होंने याद दिलाया कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ने इससे पहले पिछले साल तेजस विमान की परीक्षण उड़ान के दौरान आई बड़ी तकनीकी खामी के बाद विमान को आपातकालीन स्थित में सुरक्षित उतार लिया था और वह सुरक्षित बच गये थे. उनकी बहादुरी के लिए उन्हें इसी साल शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया है. Also Read - Pariksha Pe Charcha 2022: परीक्षा पे चर्चा के लिये रजिस्‍ट्रेशन की आज आखिरी तारीख, जल्‍दी करें

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को संसद के दोनों सदनों को बताया कि तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को हुए हेलीकॉप्टर हादसे की जांच एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में तीनों सेनाओं के एक दल ने शुरू कर दी है. इस हादसे में देश के पहले सीडीएस जनरल रावत सहित 13 लोगों की मृत्यु हो गई है. उन्होंने बताया कि ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह वेलिंगटन के सैन्य अस्पताल में जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं.

(इनपुट: भाषा)