Christmas news : पूरी दुनिया में आज 25 दिसंबर को क्रिसमस का त्योहार मनाया जा रहा है. क्रिसमस की संध्‍या पर देश के हर राज्‍य के चर्च रोशनी से जगमगा उठे और ईसाई समुदाय के लोगों ने प्रेयर्स कीं. कोरोना काल में मनाई जा रहे धूमधाम वाले इस पर्व में कहीं नियमों में सख्‍ती हैं तो कहीं थोड़ी राहत है. Also Read - COVID-19 vaccination in India: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू, लगभग दो लाख कोरोना योद्धाओं को दी गई पहली खुराक; बड़ी बातें

देश की राजधानी दिल्‍ली में भी क्रिसमस की पूर्व संख्‍या पर गुरुवार को रात गिरजाघरों में प्रार्थना सभाएं आयोजित की गईं. वहीं, सुबह से देश भर के गि‍रिजाघरों में प्रार्थनाएं आज आयोज‍ित की जा रहीं है. Also Read - Vaccination Suspended in Maharashtra: महाराष्ट्र में भी रोका गया कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्राम, जानें अब वैक्सीन लगेगी या नहीं..?

– उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में क्रिसमस की पूर्व संध्या ओल्ड सेंट्रल मेथोडिस्ट चर्च को सजाकर रोशनी से जगमग किया गया.


कोलकाता के चर्च में क्रिसमस की प्रार्थना सभा में शामिल हुईं ममता बनर्जी, राज्‍यपाल ने भी दी बधाई
कोलकाता में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को शहर के एक चर्च में प्रार्थना सभा में भाग लेने के बाद लोगों को क्रिसमस की बधाई दी. उन्होंने कहा, ”बंगाल की यह खूबसूरती है कि हम सभी त्योहार मनाते हैं और शांति, प्रसन्नता और उल्लास का संदेश देते हैं. क्रिसमस का त्योहार उल्लास के साथ हर जगह शुरू हो गया है.’

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी राज्य के लोगों को क्रिसमस की बधाई दी. सीएम ममता बनर्जी ने कोलकाता के कैथेड्रल ऑफ द मोस्ट होली रोजरी चर्च में आयोजित प्रार्थना में भाग लिया.


गोवा के पणजी में Christmas की पूर्व संध्‍या  पर सामूहिक प्रार्थना
गोवा के पणजी में अवर लेडी ऑफ द इमेक्यूलेट कॉन्सेप्ट चर्च में Christmas की पूर्व संध्‍या के अवसर पर सामूहिक प्रार्थना का आयोजन किया गया. यहां क्राइस्‍ट के अनुयायायी सोशल डिस्‍टेसिंग को बनाए रखते हुए सामूहि प्रार्थना में भाग लिया.

क्रिसमस के मद्देनजर पंजाब में रात्रि कर्फ्यू हटाया गया
पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लगाया रात्रि कर्फ्यू क्रिसमस के मद्देनजर बृहस्पतिवार को हटा दिया. सरकार ने इस महीने की शुरुआत में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य में रात्रि कर्फ्यू लगाया था. मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने ट्वीट कर बताया कि क्रिसमस के शुभ अवसर का जश्न मनाने के लिए बृहस्पतिवार रात को कर्फ्यू हटा लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि शहीदी जोड़ मेले के मद्देनजर फतेहगढ़ साहिब में 25 से 27 दिसंबर तक के लिये रात्रि कर्फ्यू हटा लिया जाएगा. हर साल दसवें सिख गुरू, गोबिंद सिंह के दो बेटों की शहादत की याद में शहीदी जोड़ मेला आयोजित किया जाता है.

उत्तराखंड सरकार ने क्रिसमस और नववर्ष की पार्टियों पर लगाई रोक
उत्तराखंड सरकार ने बृहस्पतिवार को कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए क्रिसमस और नववर्ष के मौके पर सार्वजनिक पार्टियों पर रोक लगाई गई है. देहरादून जिला प्रशासन ने देहरादून और मसूरी समेत पूरे जिले में क्रिसमस और नववर्ष पर होटलों, बार, रेस्तरां और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर सामूहिक कार्यक्रम एवं पार्टियों के आयोजन पर रोक लगा दी है. राज्‍य में क्रिसमस की पूर्व संध्‍या के मौके पर सामूहिक प्रार्थना सोशल डिस्‍टेंशिंग के नियमों के साथ आयोजित की गईं.

दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पटाखों की ब्रिकी और इस्तेमाल पर प्रतिबंध 
बता दें कि दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हवा की गुणवत्ता खराब होने के चलते नए साल पर पहले से पटाखों की बिक्री प्रतिबंधित है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने दिल्ली में प्रदूषण पर नजर रखने वाली इकाई और तीन अन्य राज्यों की इकाइयों को निर्देश दिया है कि वे क्रिसमस और नए साल के मौके पर पटाखों की ब्रिकी और इस्तेमाल पर लगे प्रतिबंध पर कड़ी नजर बनाए रखें. एनजीटी ने उन जगहों पर ही क्रिसमस और नए साल के मौके पर रात 11 बजकर 55 मिनट से लेकर 12 बजकर 30 मिनट तक हरित पटाखे फोड़ने की इजाजत दी है जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘मध्यम’ या उसके नीचे की श्रेणी में हो.

क्रिसमस के मौके पर दार्जिलिंग ट्वाय ट्रेन सेवा दोबारा बहाल होगी
पर्यटकों के बीच आकर्षण का केंद्र बने पश्चिम बंगाल दार्जिलिंग हिमालयी रेल की ट्वाय ट्रेन सेवा क्रिसमस के मौके पर आज दोबारा शुरू होगी. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी. पश्चिम बंगाल सरकार ने अभी दार्जीलिंग एवं घुम के बीच इन ट्रेनों का परिचालन दोबारा शुरू करने की अनुमति दी है. बाद में यात्रियों की मांग के आधार पर सेवाओं की संख्या में वृद्धि की जा सकती है. दार्जीलिंग हिमालयी रेल की 88 किलोमीटर की पूर्ण सेवा बहाल करने के बारे में राज्य सरकार से आवश्यक अनुमति मिलने के बाद विचार किया जाएगा. कोरोना वायरस महामारी के कारण देश भर में मार्च में लॉकडाउन की घोषणा के बाद ट्वाय ट्रेन सेवा रोक दी गई थी.

राष्ट्रपति ने क्रिसमस की पूर्व संध्या पर लोगों को शुभकामनाएं दी
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बृहस्पतिवार को क्रिसमस की पूर्व संध्या पर नागरिकों को शुभकामनाएं दी और उम्मीद जताई कि त्यौहार के इस मौके पर विश्व में शांति होगी और मनुष्यों में समरसता का भाव जगेगा. उन्होंने कहा कि क्रिसमस पर ईसा मसीह का जन्मदिन हर्षोल्लास के साथ मनाया जाना चाहिए. कोविंद ने कहा, “मुझे आशा है कि इस त्यौहार से विश्व में शांति को बढ़ावा मिलेगा और मनुष्यों में समरसता का भाव बना रहेगा. आइये हम ईसा मसीह के प्रेम, करुणा और मानवता के संदेश को आत्मसात करें और हमारे राष्ट्र तथा समाज के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हों.” उन्होंने कहा कि यह त्यौहार लोगों के जीवन को शांति और करुणा से भर देता है. राष्ट्रपति ने कहा, “इस त्यौहार पर हम अपने दिलों को दूसरों के प्रति प्रेम और दयालुता से भर दें” उन्होंने सभी नागरिकों, विशेषकर ईसाई समुदाय को क्रिसमस की शुभकामनाएं दी.

कोरोना वायरस के कारण बेथलहम और अन्य स्थानों पर क्रिसमस का उत्साह फीका हुआ
बेथलहम में बृहस्पतिवार को अनेक बैंड ने उत्साह के साथ परेड निकाली लेकिन जीसस के जन्मस्थान पर क्रिसमस की पूर्व संध्या के समारोहों की चमक कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों की वजह से फीकी हो गयी और कुछ ही लोग परेड देखने पहुंचे. दुनियाभर में ऐसा ही नजारा देखने को मिला जहां पारिवारिक आयोजन और सामूहिक प्रार्थना सभाएं छोटे स्तर पर आयोजित हुईं या उन्हें निरस्त कर दिया गया. बेथलहम में अधिकारियों ने खराब स्थिति के मद्देनजर आयोजनों के लिए काफी कोशिश की. मेयर एंटोन सलमान ने कहा, ”कोरोना वायरस की वजह से तथा पर्यटन की कमी के कारण सभी तरह के अवरोधों और चुनौतियों के बावजूद बेथलहम शहर अब भी उम्मीद के साथ भविष्य को देख रहा है और हरसंभव मानवीय तथा धार्मिक मायनों में क्रिसमस मनाएगा.’ क्रिसमस मनाने के लिए हजारों विदेशी पर्यटक बेथलहम आते हैं, लेकिन इजराइल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा बंद होने से इस साल विदेशी लोग नहीं आ सके हैं.

– ऑस्ट्रेलिया में लोगों को सामाजिक दूरी रखते हुए चर्च में प्रार्थना सभाओं में भाग लेने के लिए ऑनलाइन टिकट बुक करने पड़े.

– इटली में कर्फ्यू लगने से कुछ घंटे पहले पोप फ्रांसिस वेटिकन में प्रार्थना सभा में भाग लेने वाले हैं, जहां लगभग नहीं के बराबर लोग होंगे.

– यूरोप में अन्य स्थानों पर भी समारोह निरस्त कर दिए गए गए हैं या उन्हें छोटे स्तर पर आयोजित किया जा रहा है. क्योंकि पूरे महाद्वीप में वायरस के नये प्रकार के सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़ गये हैं.

– क्रिसमस की पूर्वसंध्या पर ब्रिटेन के डोवर बंदरगाह पर हजारों ट्रक चालक और यात्री जाम में फंस गए. कोरोना वायरस की जांच की धीमी रफ्तार की वजह से यह स्थिति बनी.