नई दिल्‍ली: दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहे एक छात्र ने आत्‍महत्‍या कर ली. बताया जा रहा है कि परीक्षा केंद्र में चार मिनट लेट पहुंचने पर उसे प्रवेश नहीं दिया गया. ऐसे में छात्र ने खौफनाक कदम उठाते हुए आत्‍महत्‍या कर लिया. पुलिस ने छात्र के कमरे से सुसाइड नोट बरामद हुआ है कि जिसमें उसने परीक्षा में देर से पहुंचने और घरवालों को जल्‍द भूलने की बात लिखी है. पुलिस ने छात्र के शव को पोस्‍टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया. Also Read - Karnataka Cabinet Expansion: कर्नाटक के CM बीएस येदियुरप्पा ने किया कैबिनेट का विस्तार, इन 7 मंत्रियों ने ली शपथ

Also Read - SC ने यमुना नदी में प्रदूषण पर लिया संज्ञान, हरियाणा सरकार से जवाब- तलब किया

जानकारी के मुताबिक, 28 साल का वरुण सुभाष चंद्रन दिल्‍ली के राजेंद्र नगर में किराये के मकान में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहा था. उसके माता-पिता कर्नाटक में रहते हैं. वरण के पिता सरकारी विभाग में वैज्ञानिक थे, जो कि मौजूदा समय में रिटायर हो गए हैं. दिल्‍ली में वरुण करीब एक साल से रह रहा था. यूपीएससी के लिए उसने कोचिंग भी की थी. इस साल वरुण का यूपीएससी में आखिरी चांस था. Also Read - Karnataka Latest News: 7 नए मंत्री आज 3:30 बजे शपथ लेंगे, सीएम येदियुरप्पा ने बताए ये नाम

चार मिनट की देरी पर नहीं दिया प्रवेश

रविवार को होने वाली परीक्षा में सेंटर पहाड़गंज के केसरूवालान में पड़ा था. सुसाइड नोट में वरुण ने लिखा कि वह परीक्षा केंद्र पर 9 बजकर 24 मिनट पर पहुंच गया था. जबकि उन्‍हें 9:20 बजे सेंटर पर पहुंचना था. चार मिनट की देरी के चलते उन्‍हें प्रवेश नहीं दिया गया. इसकी वजह से वह तनाव में आ गए.

डियर जिंदगी : जिनके नंबर कम हैं, उम्‍मीदें उनसे ही हैं!

दो केंद्र बनने से हुई गफलत

पुलिस के मुताबिक, पहाड़गंज के केसरूवालान में यूपीएससी की परीक्षा के दो केंद्र बनाए गए थे. वरुण का सेंटर सर्वोदय बाल विद्यालय केसरूवालान में पड़ा था. नौ बजे से पहले वह पहाड़गंज के केसरूवालान पहुंच गया था, लेकिन वहां पता चला कि उसका सेंटर दूसरी जगह पर है. इसकी कारण स्‍कूल खोजने में उसे चार मिनट की देरी हो गई और उसे प्रवेश नहीं दिया गया. इस दौरान वह काफी गिड़गिड़ाया भी लेकिन परीक्षा केंद्र वाले नहीं पसीजे.

दोस्‍त ने किया फोन, जवाब नहीं मिली तो पहुंची कमरे पर, तब चला पता

परीक्षा खत्‍म होने के बाद वरुण के एक दोस्त ने उसे फोन किया तो उसे कोई जवाब नहीं मिला. इस पर उसने कई बार फोन किया लेकिन कोई जवाब न मिलने पर उसे शक हुआ. इस पर वह वरुण से मिलने के लिए उसके फ्लैट पर पहुंच गई जहां घर का दरवाजा अंदर से बंद मिला. बार-बार बुलाने पर जब उसने दरवाजा नहीं खोला तो उसने किसी तरह अंदर देखा तो उसके होश उड़ गए. वरुण पंखे से लटका हुआ मिला, जिसके बाद पुलिस और उसके परिजनों को सूचना दी गई.

CBSE Class 10th Result 2018: नंबर कम आने पर दिल्‍ली में दो छात्रों ने लगाई फांसी

घर से बरामद हुआ सुसाइड नोट

वरुण के घर से एक सुसाइड नोड भी बरामद हुआ है, जिसमें लिखा है कि ‘नियम ठीक है, लेकिन कुछ उदारता भी होनी चाहिए’ हालांकि अभी खुदकुशी के कारणों को पूरा खुलासा नहीं हुआ है. वरुण ने सुसाइड नोट में अपने परिजनों को लिखा है कि ‘जितनी जल्दी हो सके उसे भूल जाएं’.