नई दिल्लीः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल(CM Arvind Kejriwal) ने रविवार को कहा कि उनकी सरकार लॉकडाउन में केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा दी गई अनुमति से ज्यादा ढील नहीं देगी. केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के मामलों को कम करने पर जोर दिया. ऑनलाइन मीडिया ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार तीन मई तक लॉकडाउन(Lockdown2.0) के दौरान आस पड़ोस की दुकानों को खोलने पर केंद्र के दिशा-निर्देशों को लागू कर रही है. Also Read - देश में लगा करीब एक लाख लोगों की मौत का अंबार, लेकिन टेंशन फ्री होकर गोल्फ खेलते दिखे डोनाल्ड ट्रंप

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में किसी भी बाजार या मॉल को खोलने की इजाजत नहीं दी जाएगी और कोविड-19 निषिद्ध जोन में सभी दुकानें बंद रहेंगी. उन्होंने कहा, ” सरकार यथा स्थिति बनाए रखेगी और तीन मई तक लॉकडाउन की पाबंदियों में ढील नहीं देगी, सिवाय उनके जिनकी अनुमति केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दी है. ” Also Read - खुशखबरी! बिहार में जून के पहले हफ्ते से सड़क पर फिर से दौड़ेंगी बसें, चरणबद्ध रूप में शुरू होगी सेवा

केजरीवाल ने कहा, “हम मुश्किल वक्त से गुजर रहे हैं. हमें दिल्ली में कोविड-19 के मामलों की संख्या को कम करने के लिए अपने प्रयास जारी रखने होंगे. ” मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस किसी भी धर्म में भेद नहीं करता है.

उन्होंने कहा, ” हमें साथ मिलकर काम करने की जरूरत है. मुस्लिम के प्लाज़मा का इस्तेमाल हिन्दू मरीज के इलाज के लिए किया जा सकता है और हिंदू के प्लाज़मा का उपयोग मुस्लिम के उपचार के लिए किया जा सकता है.” दिल्ली सरकार के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को 111 नए मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस के 2625 मामले हो गए. इस वायरस ने 54 लोगों की जान ले ली है.