नई दिल्ली: राजस्थान में चल रही सियासी मुश्किलों के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने कहा कि हम जल्दी ही राष्ट्रपति से मिलने के लिए राष्ट्रपति भवन जाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि अगर ज़रूरत पड़ी तो हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के आवास के बाहर धरने पर बैठ जाएंगे. Also Read - राजस्थान में खत्म हुआ राजनीतिक संकट! गहलोत सरकार ने जीता विश्वास मत; पायलट बोले- अटकलों पर विराम लगा

कांग्रेस की विधायक दल की मीटिंग के दौरान जयपुर में एक होटल में सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि वह पीएम के आवास के बाहर भी धरना दे सकते हैं. राजस्थान में लगातार चल रही सियासी तनातनी का ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुँच चुका है. गहलोत मांग कर रहे हैं कि जल्दी से जल्दी विधानसभा का सत्र बुलाया जाए, लेकिन राज्यपाल ने ऐसा नहीं किया है. इस पर अशोक गहलोत कह चुके हैं जनता राजभवन को घेर लेगी. उन्होंने कहा कि हम बीजेपी का षड़यंत्र कामयाब नहीं होने देंगे. Also Read - Rajasthan Assembly Session: सीएम गहलोत ने जीता विश्वास मत, पायलट ने कहा-नहीं चला किसी का कोई जादू

बता दें कि सचिन पायलट की बगावत के बाद राजस्थान में कांग्रेस सरकार मुश्किल में है. करीब 20 विधायक के साथ सचिन पायलट ने बगावत कर के रखी है. सचिन का इसके चलते डिप्टी सीएम जैसा पद भी छीना जा चुकी है.