बेंगलुरूः कर्नाटक में जारी सियासी उथलपुथल के बीच मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की राह आसान हो सकती है. सरकार के लिेए जरूरी बहुमत से पीछे रह गई भाजपा को जेडीएस का साथ मिल सकता है. जद(एस) के विधायक और पूर्व मंत्री जीटी देवगौड़ा ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी के कुछ विधायकों ने एचडी कुमारस्वामी से कर्नाटक में भाजपा सरकार को बाहर से समर्थन देने की बात कही है. हालांकि, उन्होंने कहा कि इस संबंध में पूर्व मुख्यमंत्री अंतिम निर्णय करेंगे.

पहली कैबिनेट बैठक में येदियुरप्पा सरकार का बड़ा ऐलान, किसानों व बुनकरों को दिया ये तोहफा

सत्ता से बाहर होने के केवल चार दिन के भीतर, जद(एस) के विधायक अगले कदम को लेकर विभाजित नजर आ रहे हैं. पार्टी के भविष्य की रणनीति के संबंध में कुमारस्वामी द्वारा शुक्रवार रात बुलाई गई बैठक में विधायकों में मतभेद उभरकर सामने आए थे. पार्टी विधायकों से यहां मिलने के बाद जीटी देवगौड़ा ने कहा, ‘‘हमने (विधायकों) भविष्य की रणनीति पर चर्चा की. कुछ सदस्यों ने सुझाव दिया कि हमें विपक्ष में बैठना चाहिए जबकि कुछ विधायकों की राय है कि हमें बाहर से भाजपा को समर्थन देना चाहिए.’’

(इनपुट- भाषा)