बेंगलुरु: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि लॉकडाउन कोविड-19 का समाधान नहीं है और सरकार के लिए संसाधन जुटाना समान रूप से महत्वपूर्ण है. उन्होंने बेंगलुरु और अन्य जगहों पर सप्ताहभर के लॉकडाउन में विस्तार की संभावना से इनकार किया. मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों को यूट्यूब और फेसबुक के माध्यम से संबोधित करते हुए मास्क पहनने तथा एक-दूसरे से शारीरिक दूरी बनाकर रखने की आवश्यकता पर जोर दिया जिससे कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके. Also Read - MP Lockdown: एमपी में वीकेंड के दो दिन के लॉकडॉउन में बदलाव, रात का कर्फ्यू जारी

येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘शुरू में हम कोविड-19 पर नियंत्रण करने में सफल रहे, लेकिन हाल के दिनों में, विशेषकर बेंगलुरु में कोविड के मामले बढ़े हैं. मैं राज्य के लोगों से कहना चाहता हूं कि वायरस पर नियंत्रण के लिए लॉकडाउन कोई समाधान नहीं है. समाधान मास्क पहनना और एक-दूसरे से शारीरिक दूरी बनाकर रखना है.’’ Also Read - महाराष्ट्र में कोरोना: एक दिन में कोरोना के रिकार्ड नए केस, मरीजों की संख्या 5 लाख के करीब, 16 हज़ार से अधिक की मौत

डॉक्टरों, नर्सों, अन्य चिकित्साकर्मियों तथा आशा वर्करों जैसे कोरोना योद्धाओं की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यदि हमें वायरस को हराना है तो हमें दिशा-निर्देशों और संबंधित सावधानियों का पालन करना होगा…नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.’’ कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच बेंगलुरु शहरी और ग्रामीण जिलों में वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 14 जुलाई को रात आठ बजे से बुधवार सुबह पांच बजे तक के लिए ‘‘संपूर्ण लॉकडाउन’’ लागू कर दिया गया था. कुछ अन्य जिलों ने भी इस अवधि के दौरान लॉकडाउन की घोषणा की थी. Also Read - बिहार: एक दिन में सबसे अधिक 3,416 नए मरीज मिले, कोरोना संक्रमितों की संख्या 68 हजार के पार

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार कोविड-19 पर नियंत्रण के लिए सभी प्रयास कर रही है. बेंगलुरु में कल से लॉकडाउन नहीं होगा और लोग अपनी दैनिक गतिविधियां शुरू कर सकते हैं. उन्होंने लॉकडाउन में विस्तार को लेकर अटकलों को दूर करते हुए कहा कि सरकार के लिए संसाधन जुटाना भी समान रूप से महत्वपूर्ण है.

येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘इसलिए हमें आगे बढ़ने के लिए सभी सावधानियां बरतनी होंगी. कोविड-19 को रोकने के लिए लॉकडाउन समाधान नहीं है. अब से बेंगलुरु या कर्नाटक के किसी भी हिस्से में लॉकडाउन नहीं होगा. लोगों को अपनी दैनिक गतिविधियों की अनुमति होगी.’’ उन्होंने कहा कि हालांकि निरुद्ध क्षेत्रों में कड़े कदम जारी रहेंगे. कर्नाटक में मंगलवार तक कोविड-19 के 71,069 मामले सामने आए हैं जिनमें से 25,459 लोग ठीक हो चुके हैं और 1,464 लोगों की मौत हुई है. बेंगलुरु शहरी क्षेत्र में सर्वाधिक 34,943 मामले सामने आए हैं.