शिवसेना के लगातार विरोध करने बाद मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने अपनी चुप्पी तोड़ कर शिवसेना पर जमकर हमला किया। केडीएमसी चुनाव में प्रचार के दौरान सीएम देंवेंद्र फड़नवीस ने हमला करते हुए शिवसेना को कहा की हमें देश भक्ति न सिखाएं। बीजेपी ने क्या किया है और क्या नही उन्हें बतानें की जरूरत नही है और पाकिस्तानी कलाकारों का विरोध उसके बाद दो चार काले झंडे दिखाकर हमे राष्ट्रवाद मत सिखाएं। कल्याण डोंबिवली नगर पालिका का चुनाव चल रहा है।

इस बयान के बाद इस माना जारहा है की अब दोनों पार्टियों के बीच बनी खाई पटने वाली नही हैं। उद्धव ठाकरें ने बयान उस वक्त दिया है जब की कल्याण डोंबिवली नगर पालिका का चुनाव का प्रचार का दौर चल रहा है। देवेंद्र फड़नवीस ने कहा की हम आरएसएस के स्कूल से हैं। हमें अपना काम करना आता है जब भारत पाकिस्तान के बीच युद्ध चल रहा था तब उस वक्त लड़ाई में भारतीय सेना तक हथियार पहुंचाया था। जो की गलती से गलत जगह पर गिर गया था। उस वक्त स्वयंसेवकों ने अपनी जान की परवाह नही किया और मौत की मुहं में जाकर इस कदम को उठाया था। यह भी पढ़ें: शिवसेना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस साधा निशाना

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने अपनी पार्टी की उपलब्धियों को गिनातें हुए जमकर शिवसेना पर हमला किया। पिछले लोकसभा चुनाव के समय से सेना और भाजपा का आपस में नही जम रहा है और शिवसेना अपनी तरफ से लगातार बीजेपी पर हमला कर रही थी। लेकिन अब देवेन्द्र फड़नवीस का इस तरह से खुल के बयान देना और उनका शिवसेना पर तीखा प्रहार करना यह इशारा है की आने वाले समय में ये अलग राह चुन सकतें हैं। फिलाहल मुंबई में बीएमसी चुनाव में कुछ ही साल बचें हैं ऐसे में शिवसेना अलग रास्ता चुन सकती है और बीजेपी भी।