नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और राज्य के मौजूदा हालात के बारे में चर्चा की. करीब 20 मिनट की मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने घाटी और पाकिस्तान की सीमा से लगे इलाकों में सुरक्षा हालात के बारे में राजनाथ सिंह को जानकारी दी.

श्रीनगर की चिनार कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने सोमवार को कहा था कि नियंत्रण रेखा के उस पार लॉचिंग पैड पर बड़ी संख्या में आतंकवादी मौजूद हैं जो घुसपैठ की फिराक में हैं. पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जा रहा है ताकि वे उनको इस तरफ दाखिल होने में मदद मिल सके.

जम्मू-कश्मीर में पिछले साल घुसपैठ की 515 घटनाएं हुईं जिनमें 75 आतंकवादी मारे गए. 2016 में घुसपैठ की 454 घटनाएं हुई थीं जिनमें 45 आतंकवादी मारे गए थे.