नई दिल्ली: देश में 14 दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. अब लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई तक रहेगा. रविवार को गृहमंत्रालय की तरफ से लॉकडाउन 4.0 को लेकर गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं. इस बार केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के नियमों के लिए राज्य सरकार की तरफ गेंद फेंकी है. अब राज्य सरकार ही तय करेंगी कि किस शहर में कितनी पाबंदी रखनी है और कितनी छूट देनी है. लॉकडाउन के नियमों को लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कई अहम बाते कही हैं. Also Read - Delhi Metro Start Date Timings: 200 स्पेशल ट्रेन, घरेलू उड़ानों के बाद अब चलेगी दिल्ली मेट्रो!

गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात सरकार कंटेनमेंट जोन और नॉन कंटेनमेंट जोन के अनुसार यहां पर लॉकडाउन के नियम तय किए जाएंगे. रविवार को उन्होंने कहा कि कल इसे लेकर सभी जिलों के डीएम और बड़े अधिकारियों के साथ बैठक की जाएगी और जोन निर्धारित किए जाएंगे. Also Read - चुनिंदा रेलवे स्टेशनों पर 22 मई से खुलेंगे टिकट रिजर्वेशन काउंटर, एजेंट्स भी कर सकेंगे बुकिंग

सीएम ने कहा कि जब तक पूर्ण रूर से तैयारी नहीं कर ली जाती तब तक लॉकडाउन में ढील नहीं दी जा सकती. हम आपको बता दें कि गुजरात में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं और इसी को देखते हुए सरकार फूंक-फूंक कर कदम रख रही है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र जहां एक ओर रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में राज्यों को बांट रही है वही गुजरात सरकार कंटेनमेंट जोन और नॉन-कंटेनमेंट जोन के हिसाब से जिलों को बांटेगी और लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइन इसी के तौर पर बनाई जाएगी.

उन्होंने कहा कि आर्थिक हालात को फिर सुदृढ़ बनाने के लिए आर्थिक गतिविधियों को शुरू करना बहुत जरूरी है इसलिए गुजरात भी आर्थिक गतिविधियां शुरू करेगा लेकिन इसके लिए हमें बहुत अधिक सावधानी बरतनी पड़ेगी. सीएम ने कहा कि कोरोना के मामले अभी भी कम नहीं हुए हैं इसलिए हमें एक मजबूत तैयारी की जरूरत है जिससे भविष्य में हालात बुरे न हों.