Also Read - WB Assembly Election: चुनाव से पहले बंगाल में CBI की छापेमारी, अभिषेक बनर्जी के करीबी पर है यह आरोप

Also Read - CBI ने 10 लाख रुपये की रिश्वत मामले में तीन GST अधिकारियों को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली, 19 फरवरी | केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार को कोयला ब्लॉक आवंटन में उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला और अन्य की कथित संलिप्तता के मामले में अपनी अंतिम जांच रिपोर्ट विशेष अदालत में पेश की। रिपोर्ट में एक गवाह का बयान भी शामिल है। सीबीआई ने विशेष न्यायाधीश भारत पराशर के सामने सीलबंद लिफाफे में बयान पेश किया है और कहा कि मामले में जांच पूरी हो गई है।  यह भी पढ़ें– कोड़ा को न दी जाए जमानत : सीबीआई Also Read - SSR Death Case: सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच को लेकर सीबीआई ने दी बड़ी जानकारी, कहा- एक्टर की मौत...

अदालत के आदेश पर जांच की आखिरी रिपोर्ट पेश की गई है। अदालत ने 16 दिसंबर को समापन रिपोर्ट को स्वीकार करने से इंकार करते हुए सीबीआई को निर्देश दिया था कि वह इस मामले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का बयान शामिल करे, जो उस वक्त कोयला मंत्रालय की जिम्मेदारी भी देख रहे थे। मामले की अगली सुनवाई 11 मार्च होगी। यह भी पढ़ें– कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में मधु कोड़ा को सम्मन

पिछली सुनवाई में एजेंसी ने मामले की जांच के संबंध में विभिन्न लोगों के बयान दर्ज किए थे। सीबीआई ने बिड़ला, पूर्व कोयला मंत्री पी.सी.पारेख और अन्य पर अक्टूबर 2013 में कोयला आवंटन के दौरान आपराधिक षडयंत्र रचने और भ्रष्टाचार करने जैसे मामले दर्ज किए थे। लेकिन सीबीआई ने बाद में इस मामले में समापन रिपोर्ट पेश की थी।