चेन्नई: भारतीय तटरक्षक के डोर्नियर विमान के मलबे के साथ समुद्र से विमान के चालक दल के सदस्यों के शव और उनके निजी सामान जैसे घड़ी और अन्य वस्तुएं बरामद हुई हैं। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। भारतीय तटरक्षक का डोर्नियर विमान आठ जून को दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। यह भी पढ़े:‘भारत, पाकिस्तान उफा में बनी सहमति पर आगे बढ़ेंगे’

महानिरीक्षक (पूर्वी क्षेत्र) सत्यप्रकाश सिंह ने संवाददाताओं को बताया, “विमान के चालक दल के सदस्यों की कलाई घड़ी और दूसरी चीजें समुद्र से बरामद हुई हैं, जिन्हें पहचान हेतु डीएनए परीक्षण के लिए भेजा गया है।” उन्होंने बताया कि विमान के मलबे की खोज लगभग पूरी हो चुकी है, इसलिए खोज दल को वापस बुला लिया गया है।

उन्होंने बताया कि दुर्घटनास्थल से बरामद किया गया विमान का ब्लैक बॉक्स, जिसमें विमान की उड़ान से संबंधित सभी सूचनाएं दर्ज होती हैं, और दूसरे समान जांच दल को सौंप दिए गए हैं, ताकि वे दुर्घटना के कारणों का पता लगा सकें। सिंह के मुताबिक, डोर्नियर विमान में उड़ान के दौरान विस्फोट हुआ था और वह दुर्घटनाग्रस्त होकर समुद्र में समा गया था। विमान के मलबे के पास से शव एवं चालक दल के एक सदस्य की कलाई घड़ी सोमवार रात बरामद की गई।

सिंह ने बताया कि तट रक्षक एजेंसी इन अवशेषों को तमिलनाडु फोरेंसिक साइंस डिपार्टमेंट को डीएनए परीक्षण के लिए भेजेगी, ताकि विमान के चालक दल के सदस्यों की पहचान हो सके। विमान के साथ चालक दल के सदस्य पॉयलट कमांडेंट विद्यासागर, सह-चालक उप कमांडेंट सुभाष सुरेश और नेविगेटर/पर्यवेक्षक एम. के. सोनी लापता हो गए थे।