शीना बोरा मर्डर केस में एक चौकानें वाली खबर का खुलासा हुआ है आप को बता दे पिछले दिनों इंद्राणी मुखर्जी अर्द्ध बेहोशी की हालत मुंबई के जेजे अस्पताल में बीमार पड़ने के कारण भर्ती कराया गया था। लेकीन बिमारी के कारण जब आरोपी इंद्राणी मुखर्जी के यूरिन सैंपल का जांच किया गया तो उसमे कोकीन मिला है। यह खुलासा जे. जे अस्पताल की मेडिकल  रिपोर्ट से हुआ है।

आप को बता दें की इस रिपोर्ट के मुताबिक, इंद्राणी ने कोकीन का सेवन किया था। ज्यादा नशा होने के कारण वह बेहोश हो गई थी। लेकिन अब इस मामले ने नया तुल पकड़ ने लगा है और बड़ा ही गंभीर सवाल यही उठ रहा है की आखिर जेल में इंद्राणी तक कोकीन कैसे पहुंची। इंद्राणी को कोकीन मिलने से पुलिस महकमे के साथ साथ जेल के अंदर बंद कैदियों की सुरक्षा और नशे के कारोबार का खुलासा हुआ है। इस मामलें की जांच सीबीआई अब खुद करेगी। दूसरी ओर, जेल अथॉरिटी ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

शीना बोरा मर्डर केस जिसमे एक माँ ने अपने ही बेटी की हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड में इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना और ड्राइवर को भी अरेस्ट किया गया। आप को बता दे इस मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने में पुलिस को नाको चना चबाना पड़ा था। यह मामला इनता पेचीदा था की हर दिन एक बड़ा खुलासा सामने आता था। इस मामलें की कहानी कुछ ऐसी है की जिसमें पुलिस जांच के मुताबिक 24 अप्रैल 2012 को इंद्राणी ने अपनी बेटी शीना को फोन करके नेशनल कॉलेज बुलाया। शीना उस समय पीटर मुखर्जी के बेटे राहुल मुखर्जी के साथ लिव-इन में थी। मां का फोन आने के बाद शीना को छोड़ने के लिए राहुल ही गया। राहुल उसे छोड़कर चला गया। इसके बाद इंद्राणी ने शीना को कार में बैठने के लिए कहा। उस वक्त कार में उसके साथ ड्राइवर और पूर्व पति संजीव खन्ना भी थे। जब शीना ने कार में बैठने से मना किया तो इन लोगों ने उसे जबरन कार में बैठाया। आरोप है कि कार में ही हुई कहासुनी के बाद तीनों ने गला दबाकर उसे मार डाला था।