अयोध्या: अयोध्या आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने वाले पूर्व भाजपा सांसद रामविलास वेदांती ने इस मामले पर नौ नवंबर को आए सुप्रीम कोर्ट के अंतिम फैसले के अनुसार खुद मंदिर ट्रस्ट का प्रमुख बनने को लेकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है. अयोध्या में संत समुदायों के बीच प्रसारित हो रहे एक ऑडियो क्लिप में वेदांती यह कह रहे हैं कि वह मंदिर ट्रस्ट का प्रमुख बनना चाहते हैं.

हालांकि ऑडियो क्लिप का अभी तक सत्यापन नहीं किया जा सका है. यह ऑडियो क्लिप वेदांती और तपस्वीजी छावनी के प्रमुख महंत परमहंसदास के बीच बातचीत का अंश है, जिन्हें राम जन्मभूमि न्यास प्रमुख नृत्य गोपाल दास पर अपमानजनक टिप्पणी करने को लेकर गुरुवार को हिरासत में लिया गया था. ऑडियो क्लिप में वेदांती, परमहंसदास से ट्रस्ट के प्रमुख के लिए अपना नाम प्रस्तावित करने के लिए कह रहे हैं. दोनों नृत्य गोपाल दास के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग करते सुने जा सकते हैं.

ऑडियो में परमहंसदास कह रहे हैं, “नृत्य गोपाल दास का दिमाग खराब हो गया है?” इसे सुनने के बाद नृत्य गोपाल दास के समर्थकों में काफी गुस्सा था. हालांकि सूत्रों के अनुसार, इस ऑडियो को परमहंसदास के समर्थकों ने इस बात को जगजाहिर करने के लिए प्रसारित किया, ताकि लोगों को पता चल सके कि वेदांती ट्रस्ट के प्रमुख के लिए अपना नाम प्रस्तावित करने के लिए संतों को उकसा रहे हैं.

ऑडियो में वेदांती कह रहे हैं, “आप या तो मेरा या फिर रामानंद संप्रदाय में से किसी का नाम प्रस्तावित कर सकते हैं, वरना गोरक्ष पीठ (योगी आदित्यनाथ) का कोई सदस्य ट्रस्ट का प्रमुख बन जाएगा.” वहीं नृत्य गोपाल दास ने पहले ही अपने विचार व्यक्त कर दिए हैं कि वह योगी आदित्यनाथ को गोरक्ष पीठ के प्रमुख के रूप में मंदिर ट्रस्ट का प्रमुख बनाना चाहेंगे.

(इनपुट-आईएएनएस)