नई दिल्ली:भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दिल्ली हिंसा के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराया है. भाजपा ने आरोप लगाते हुए कहा है कि दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की सरकार ने लोगों को उकसाने का काम किया है. कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अनुच्छेद-370 के बाद लोगों को पिछले दो महीने से भड़काने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा कांग्रेस के नेताओं ने रामलीला मैदान की रैली में लोगों को उकसाने का प्रयास किया. Also Read - दिग्विजय सिंह अमर्यादित भाषा वाले आ रहे कॉल्‍स से हुए परेशान, बंद किया मोबाइल फोन

जावड़ेकर ने कहा, “दिल्ली में पिछले दो दिनों से शांति है और दंगे में शामिल लोगों की गिरफ्तारियां हो रही हैं. साजिश करने वाले बेनकाब होंगे.” मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए जावड़ेकर ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री हिंसा में मारे गए लोगों का धर्म बता रहे हैं और कांग्रेस राष्ट्रपति के दरवाजे पहुंच गई है. Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाते हुए कहा, “अनुच्छेद-370 के बाद दो महीने से भड़काने की कोशिश हो रही है. कांग्रेस के नेताओं ने रामलीला मैदान की रैली में लोगों को उकसाया. सोनिया गांधी ने कहा कि आर-पार का फैसला है. ये वैसा ही है जब 1984 में राजीव गांधी ने कहा था कि जब बड़ा पेड़ गिरता है, तब धरती हिलती है.” Also Read - 10 लाख लोगों को मुफ्त भोजन कराएगी दिल्ली सरकार, बुधवार से नियम लागू

आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के मकान पर मिले पत्थर, पेट्रोल बम, गुलेल का जिक्र करते हुए जावड़ेकर ने कहा कि ताहिर के घर पर दंगे की तैयारी का सामान मिला है. इन लोगों ने जिन्ना वाली आजादी, 100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी, असम को अलग करना पड़ेगा, ये सब उकसाने वाले भाषण दिए. उन्होंने कहा कि दिल्ली के कई इलाकों में पुलिस पर हमला हुआ, लेकिन कांग्रेस और आम आदमी पार्टी चुप हैं. भाजपा ओछी राजनीति की निंदा करती है.