नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को हो रहे मतदान के दौरान चांदनी चौक सीट से कांग्रेस प्रत्याशी अलका लांबा के साथ अभद्रता किए जाने का मामला सामने आया है. दिल्ली पुलिस ने अलका लांबा पर अशोभनीय टिप्पणी के आरोप में आम आदमी पार्टी (आप) कार्यकर्ता हरमेश यादव को गिरफ्तार किया है. हरमेश ने पुलिस और कैमरों की मौजूदगी में अलका लांबा पर आपत्तिजनक टिप्पणी की. इसके बाद कांग्रेस व आप समर्थकों के बीच मतदान केंद्र के बाहर ही हाथापाई हो गई. Also Read - Delhi Corona Updates: कोरोना से अनाथ हुए बच्चों-बेसहारा बुजुर्गों की मदद करेगी दिल्ली सरकार- जानें केजरीवाल ने क्या की घोषणा...

यह घटना शनिवार सुबह करीब 11.30 बजे चांदनी चौक के मजनू टीला इलाके में हुई. कांग्रेस उम्मीदवार अलका लांबा यहां एक बूथ का निरीक्षण करने पहुंची थीं. पोलिंग बूथ से बाहर आने पर उनकी मुलाकात आप उम्मीदवार प्रह्लाद सिंह साहनी के बेटे पूरन सिंह सहानी और आप के अन्य कार्यकर्ताओं से हुई. इस दौरान अलका लांबा ने हाथ जोड़कर आप नेताओं से कहा ‘मेरी ओर से आपके लिए शुभकामनाएं हैं.’ अलका की शुभकामनाओं के जवाब में आप कार्यकर्ता हरमेश यादव ने अशोभनीय टिप्पणियां की. लेकिन अलका लांबा ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. हरमेश यादव जब लगातार अभद्र टिप्पणियां करता रहा, तब अलका ने यादव को एक थप्पड़ जड़ दिया. Also Read - HC ने दिल्‍ली सरकार से पूछा, क्या AAP MLA इमरान हुसैन को ‘रिफिलर’के जरिए ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई?

इस पूरे घटनाक्रम पर अलका लांबा ने कहा, “हरमेश यादव जो कि आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता है और जिसे मैं बहुत अच्छे से जानती हूं, उसने मुझे सबके सामने गंदी गालियां दीं.” अलका ने कहा, “हरमेश ने इतने गंदे शब्द बोले हैं, जिन्हें मैं बता भी नहीं सकती. केजरीवाल एक ओर महिलाओं के सम्मान व सुरक्षा के लिए कैमरे लगाने जैसी बातें कहते हैं और दूसरी ओर महिलाओं पर अभद्र टिप्पणियां और गालियां देने वालों को प्रोत्साहित कर रहे हैं.” उन्होंने कहा, “हरमेश यादव को गाली देने के लिए प्रह्लाद सिंह साहनी के बेटे ने उकसाया था. पिछले चुनाव में स्वयं केजरीवाल ने प्रह्लाद सिंह साहनी को भ्रष्ट बताया था और इस चुनाव में केजरीवाल चुनाव जीतने के लिए साहनी के हर हथकंडे का समर्थन कर रहे हैं.” Also Read - विधानसभा चुनाव में करारी हार की समीक्षा के लिए समिति बनाएगी कांग्रेस

मौके पर मौजूद आप कार्यकर्ता लक्षित ने भी घटना के लिए हरमेश यादव को दोषी बताया. उन्होंने कहा कि हरमेश यादव ने बिना किसी कारण महिला प्रत्याशी से बदसलूकी की. लक्षित के मुताबिक, “हरमेश पार्टी के अंदर भी कई कार्यकर्ताओं से इस प्रकार की बदसलूकी करते रहे हैं, जिसके लिए उनकी शिकायत भी की जा चुकी है.” अलका ने मामले की शिकायत दिल्ली पुलिस से की है, और उनके मुताबिक, स्थानीय एसएचओ ने उन्हें ठोस कार्रवाई का भरोसा दिया है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. आप उम्मीदवार प्रह्लाद सिंह साहनी के कई कार्यकर्ताओं व स्वयं उनके बेटे पर हरमेश यादव को उकसाने का आरोप भी लगाया गया है.