नई दिल्ली: कांग्रेस ने मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में आर्थिक विकास दर के 4.7 फीसदी रहने को लेकर शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि आंकड़ों से स्पष्ट है कि ‘करो-ना’ वायरस ने इस सरकार को पंगु बना दिया है. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान जारी कर यह आरोप भी लगाया कि सरकार इन आंकड़ों के खतरनाक संकेतों को लगातार नजरअंदाज कर रही है. Also Read - Corona Cases in UP: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत, 15,747 नये मामले

उन्होंने कहा, ‘‘जीडीपी के आंकड़ों से पता चलता है कि ‘करो-ना’ वायरस से इस सरकार की कार्य प्रणाली पंगु हो चकी है. अर्थव्यवस्था का हर सूचकांक विपरीत दिशा में जा रहा है. इसके बावजूद यह सच्चाई से मुंह छिपा रही है.’’ दरअसल, विनिर्माण क्षेत्र में गिरावट के कारण देश की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की तीसरी (अक्टूबर-दिसंबर) तिमाही में धीमी पड़कर 4.7 प्रतिशत रही. यह किसी तिमाही में इसका सात साल का न्यूनतम स्तर है. Also Read - Viral Video:'लव यू जिंदगी' सुनते-सुनते कोरोना से हार गई ये युवा मां, हजारों दुआओं...

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार इससे पूर्व वित्त वर्ष 2018-19 की इसी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर 5.6 प्रतिशत रही थी. Also Read - Kerala Lockdown Extension News: केरल में फिर बढ़ा लॉकडाउन, अब 23 मई तक तालाबंदी

(इनपुट भाषा)