केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) ने आज कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) के कई ठिकानों पर छापेमारी की. सीबीआई की तरफ से यह छापेमारी कथित तौर पर भ्रष्टाचार के मामले में की गई है. कांग्रेस (Congress) ने इसे लेकर विरोध जताया और राज्य में उप चुनाव से पहले उठाया गया ‘राजनीतिक प्रतिशोध’ का कदम करार दिया. साथ ही पार्टी ने कहा कि जांच एजेंसी को मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा एवं उनके परिवार के खिलाफ ‘भ्रष्टाचार’ की जांच करनी चाहिए.Also Read - ममता बनर्जी की पार्टी TMC का हमला- 'कांग्रेस ने खुद को ट्विटर की दुनिया तक ही कर लिया सीमित'

Also Read - प्रशांत किशोर ने कहा- BJP दशकों तक मजबूत रहेगी, नरेंद्र मोदी की ताकत समझें राहुल गांधी

पार्टी महासचिव और कर्नाटक के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार की इस बदले की भावना से की जा रही कार्रवाई के बावजूद कांग्रेस के नेता एवं कार्यकर्ता झुकने वाले नहीं हैं. कांग्रेस प्रवक्ता सुष्मिता देव ने येदियुरप्पा के इस्तीफे की मांग करते हुए सवाल किया कि येदियुरप्पा और उनके परिवार के ‘भ्रष्टाचार’ की जांच क्यों नहीं हो रही? Also Read - RJD Chief Lalu Yadav ने नीतीश कुमार को बताया अहंकारी और लालची, कांग्रेस के बारे में अब कही ऐसी बात

सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘डीके शिवकुमार के यहां छापेमारी करके मोदी-येदियुरप्पा की जोड़ी की ओर से धमकाने का खेल चल रहा है. हम झुकने वाले नहीं है. सीबीआई को येदियुरप्पा सरकार के भ्रष्टाचार का भी खुलासा करना चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘मोदी सरकार, येदियुरप्पा सरकार और भाजपा के अग्रिम संगठन सीबीआई-ईडी-आयकर जानते हैं कि कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता इस तरह की कोशिशों के सामने झुकने वाले नहीं हैं. लोगों के लिए लड़ने का हमारा संकल्प और मजबूत होगा.’

सुष्मिता ने संवाददाताओं से कहा, ‘भाजपा विपक्षी नेताओं को निशाना बनाने के लिए जांच एजेंसी का बार-बार दुरुपयोग कर रही है. हमारा सवाल है कि चुनाव से पहले से सीबीआई के छापे क्यों पड़ते हैं? चुनाव से पहले ही सीबीआई क्यों जागती है?’ उन्होंने कहा कि पूरी कांग्रेस पार्टी डी के शिवकुमार के साथ खड़ी है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘हमारी मांग है कि मुख्यमंत्री पद से बीएस येदियुरप्पा को इस्तीफा देना चाहिए. उनके एवं परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच होनी चाहिए.’ गौरतलब है कि सीबीआई ने शिवकुमार से कथित तौर पर संबंधित भ्रष्टाचार के एक मामले में अनेक परिसरों की तलाशी ली और अब तक 50 लाख रुपये बरामद किये हैं. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. सीबीआई आय से अधिक संपत्ति जुटाने से जुड़े मामले में कर्नाटक, दिल्ली एवं महाराष्ट्र में 14 स्थानों पर तलाशी ले रही है.

(इनपुट: भाषा)