नई दिल्ली: कांग्रेस उत्तराखंड में अपना खोया जनाधार फिर पाने की कोशिश के तहत पार्टी के मौजूदा राज्य प्रमुख प्रीतम सिंह की जगह एक ब्राह्मण नेता को लाने की तैयारी में है. पार्टी की योजना विधायक दल की नेता इंदिरा हृदयेश की जगह किसी और को लाने की भी है. पार्टी के शीर्ष पद के लिए कई दावेदारों के बीच एक ब्रह्मण नेता नवप्रभात को आगे लाया गया है जो एन.डी. तिवारी और हरीश रावत सरकार में मंत्री रह चुके हैं.

सूत्रों के मुताबिक, पार्टी इंदिरा हृदयेश की जगह गोविंद सिंह कुंजवाल को विधायक दल का नेता बना सकती है. इन बदलावों से पार्टी को कुमाऊं व गढ़वाल के बीच संतुलन बनाने में मदद मिल सकती है. नवप्रभात गढ़वाल क्षेत्र से हैं, जबकि कुंजवाल कुमाऊं क्षेत्र से हैं. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने त्रिवेंद्र सिंह रावत को मुख्यमंत्री पद देकर जहां राजपूत बिरादरी को प्रमुखता दी है, वहीं कांग्रेस का लक्ष्य पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में बदलाव लाकर अपनी खोई जमीन फिर से पाने की है.

इससे पहले, कांग्रेस ने किशोर उपाध्याय को राज्य पार्टी प्रमुख बनाया था और हरीश रावत को मुख्यमंत्री पद दिया था. विधानसभा चुनाव में हार के बाद रावत अब पार्टी के महासचिव और असम प्रभारी हैं. हाल के हरियाणा व महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजों से उत्साहित कांग्रेस ने देशभर के राज्य प्रमुखों को बदलने का फैसला लिया है.