नई दिल्ली: लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को आरोप लगाया कि महाराष्ट्र मुद्दे पर सदन में हंगामे के दौरान मार्शलों ने पार्टी की दो महिला सांसदों के साथ धक्कामुक्की की. चौधरी ने संसद भवन परिसर में मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि वह इंतजार कर रहे हैं कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला जिम्मेदार मार्शलों के खिलाफ क्या कार्रवाई करते हैं.

कांग्रेस ने कहा, ”ऐसा सदन में हमने कभी नहीं अनुभव नहीं किया था. हमारी दो महिला सांसदों एस ज्योतिमणि और राम्या हरिदास के साथ मार्शलों ने सदन में धक्कामुक्की की. ज्योति मणि ने कहा, ”यह दुखद है कि राम्या हरिदास और मेरे साथ सदन में धक्कामुक्की की गई. हमने इस बारे में स्पीकर के समक्ष शिकायत की है.”

कांग्रेस सांसद ज्‍योत‍िमणि‍ और राम्‍या हर‍िदास, फोटो: साभार लोकसभा डॉटकॉम)

महाराष्ट्र मुद्दे पर सदन में बड़ा पोस्टर लहारने वाले कांग्रेस सांसद हिबी इडेन ने कहा कि विरोध करना लोकतांत्रिक अधिकार है, लेकिन मार्शलों के जरिए इसे रोकने की कोशिश हुई और महिला सांसदों के साथ धक्कामुक्की की गई. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार लोकतंत्र का गला घोट रही है.

इस बीच, कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि लोकसभा अध्यक्ष पार्टी चाहते हैं कि दोनों सांसद हिबी इडेन और टी एन प्रतापन सदन में उनके आचरण के लिए क्षमा मांगें, लेकिन कांग्रेस इसके लिए तैयार नहीं होंगी. दरअसल, सदन में महाराष्ट्र मुद्दे पर हंगामे के दौरान प्रतापन और इडेन और मार्शलों के बीच धक्कामुक्की हुई.