नई दिल्ली. केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस पार्टी शनिवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक बड़ी रैली कर रही है. इस रैली को ‘जन आक्रोश रैली’ का नाम दिया गया है. इसमें देशभर से कांग्रेस कार्यकर्ता रामलीला मैदान में जुटें हैं. रैली को 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के प्रचार अभियान की शुरुआत भी माना जा रहा है. रैली में राहुल गांधी ने कहा, मैं मोदी जी के पास किसानों का कर्ज माफ करवाने गया, लेकिन उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकला. किसानों के सामने बड़ी समस्या है, लेकिन मोदी जी उनका एक रुपये कर्ज माफ नहीं करते हैं. वहीं उन्होंने पीएम के चीन दौरे का जिक्र करते हुए कहा कि वह बिना किसी एजेंडे के वहां गए.

रोजगार की बात पर राहुल गांधी ने कहा, चुनाव से पहले मोदी जी ने दो करोड़ रोजगार की बात की थी. रोजगार छोड़ो 8 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है. आईआईटी, आईआईएम जैसे संस्थानों में आरएसएस के लोग भरे जा रहे हैं. हिंदुस्तान के हर संस्थान को बर्बाद किया जा रहा है. मोदी इन सब पर चुप हैं.

न्यायव्यवस्था के सवाल पर राहुल ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के जज लोया का नाम लेते हैं, लेकिन मोदी जी चुप रहते हैं. पूरे देश में न्याय देने वाले सुप्रीम कोर्ट के चार जज मोदी जी से न्याय मांगते हैं, लेकिन वह चुप रहते हैं.

इसके पहले सोनिया गांधी ने कहा, राहुल के नेतृत्व में हम सब सरकार से मुकाबले का संकल्प लें. मोदी सरकार ने हर संवैधानिक संस्था को कमजोर कर दिया है. आज न्यायव्यवस्था जिस दौर से गुजर रही है, ऐसा कभी नहीं हुआ. तेल के दामों में हो रही बढोत्तरी से आम जनता परेशान है. मोदी के वादे ने खाउंगा ने खाने दूंगा का क्या हुआ.