तिरुवनंतपुरम: वरिष्ठ कांग्रेस नेता एके एंटनी ने राजीव गांधी को पीएम नरेंद्र मोदी से बड़ा नेता बताया है. उन्होंने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विपरीत पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी बहुत बड़े नेता थे और कांग्रेस का एजेंडा यह है कि मोदी को सत्ता से बाहर किया जाए, क्योंकि उन्होंने लोकतंत्र की पवित्रता की हत्या की है.

कांग्रेस ने आहुति दी, जबकि मोदी ने माहौल बिगाड़ा
पूर्व रक्षामंत्री ने यहां राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह में कहा कि राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री के तौर पर संकटग्रस्त पंजाब, असम और मिजोरम में शांति स्थापित करने के लिए इन राज्यों में कांग्रेस सरकार की आहुति दी, जबकि मोदी ने राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार का इस्तेमाल शांति बिगाड़ने के लिए किया.

मूल्यों को महत्व नहीं देते मोदी
उन्होंने कहा कि मोदी उनमें से हैं, जो मूल्यों को बहुत कम महत्व देते हैं, जबकि राजीव गांधी उन नेताओं में से थे, जो इसके लिए (मूल्यों के लिए) खड़े रहते थे. अगर पूर्व प्रधानमंत्री अभी जीवित होते तो भारत अभी विश्व के शीर्ष देशों में अपना स्थान बना चुका होता. उनके समय में सूचना प्रौद्योगिकी और दूरसंचार के क्षेत्र में भारत ने अपना कदम बढ़ाया था.’

‘मोदी को सत्ता से बाहर करने की प्रक्रिया शुरू’
एंटनी ने कहा कि मोदी को सत्ता से बाहर करने की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है. हम धर्मनिरपेक्ष दलों के साथ हाथ मिलाकर अपने कार्य को पूरा करेंगे. इसलिए हमने कर्नाटक में देखा कि कांग्रेस और जनता दल (सेकुलर) भाजपा को सत्ता से बाहर करने के लिए एक साथ आए.