नई दिल्ली: कर्नाटक के कांग्रेस नेता डी के शिवकुमार को धनशोधन मामले में ईडी ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया. पूर्व कैबिनेट मंत्री और कनकपुरा के विधायक शिवकुमार पूछताछ के लिए चौथी बार मंगलवार को ईडी के सामने पेश हुए. उधर, कांग्रेस ने कर्नाटक के अपने वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार की विफलताओं एवं ‘आर्थिक आपातकाल’ पर पर्दा डालने की कोशिश के तहत यह करवाई की गई है.

 

अधिकारियों ने बताया कि कर्नाटक के कांग्रेस नेता डी के शिवकुमार को धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की जरूरत है, इसलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है. अधिकारियों के अनुसार शिवकुमार को ईडी बुधवार को यहां अदालत में पेश करेगी और उनकी हिरासत की मांग करेगी. ईडी ने शिवकुमार, नयी दिल्ली में कर्नाटक भवन में कर्मचारी हनुमनथैया और अन्य के खिलाफ पिछले साल धनशोधन का मामला दर्ज किया था. हालांकि शिवकुमार ने किसी भी गड़बड़ी से इनकार किया था.

 

शिवकुमार की गिरफ्तारी ‘आर्थिक आपातकाल’ पर पर्दा डालने की कोशिश: कांग्रेस
कांग्रेस ने कर्नाटक के अपने वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी को लेकर मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार की विफलताओं एवं ‘आर्थिक आपातकाल’ पर पर्दा डालने की कोशिश के तहत यह करवाई की गई है. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में यह भी कहा कि शिवकुमार निर्दोष थे और निर्दोष हैं और पार्टी अदालत एवं जनता के समक्ष इसका सबूत देगी. उन्होंने यह भी कहा कि शिवकुमार के खिलाफ बदले की भावना से कार्रवाई की जा रही है.


आए दिन हो रहे कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ झूठे मुकदमे
सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि ‘अर्थव्यवस्था औंधे मुंह गिर गयी है, जीडीपी विकास दर पांच फीसदी लुढक़ गयी है, हर क्षेत्र बेरोजगारी की चपेट में है. इन सबसे ध्यान भटकाने के लिए भाजपा सरकार आए दिन कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज दर्ज करा रही है. उन्होंने यह भी दावा किया कि पूरे देश में ‘आर्थिक आपातकाल’ का जो माहौल है उस पर पर्दा डालने के लिए यह सब किया जा रहा है, लेकिन भाजपा सरकार इससे बच नहीं सकती. (इनपुट एजेंसी)