नई दिल्ली| पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम ने मोदी सरकार पर हमला बोला है. चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा है कि जब गुजरात सरकार हर तरह की छूट का ऐलान कर लेगी तब चुनाव आयोग गुजरात में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करेगा. उन्होंने दूसरे ट्वीट में ये भी लिखा कि चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री को ऑथोराइज किया है कि वह अपनी आखरी रैली में सूबे में चुनाव की तारीख की घोषणा कर दें.

बहरहाल, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने चिदंबरम की आलोचना का जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि चिदंबरम और पूरी कांग्रेस पार्टी आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले डरी हुई है.

बता दें कि पिछले सप्ताह निर्वाचन आयोग ने हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए तारीख का ऐलान किया था मगर गुजरात चुनाव की तारीख का ऐलान नहीं किया. गुजरात में अगले महीने की 9 तारीख को वोटिंग होगी मगर नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे. वोटिंग और काउंटिंग के बीच इतने दिनों के अंतर को लेकर कांग्रेस पहले ही सवाल खड़े कर चुकी है.

कांग्रेस की और से ये इल्जाम भी लगाया गया है कि गुजरात में चुनावी वादों और घोषणाओं के लिए सरकार को मौका देने के लिए तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है. वहीं, मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी से पहले मतदान कराने के लिए 9 नवंबर का दिन तय किया गया है. गुजरात में भी काउंटिंग हिमाचल प्रदेश के साथ ही होगी.