नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने चल रहे किसान विरोध प्रदर्शन को लेकर रविवार को केंद्र पर हमला किया. प्रधानमंत्री Narendra Modi के ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) कार्यक्रम पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि यह किसानों की बात करने का समय है. राहुल गांधी ने हिंदी में ट्वीट किया, “वादा था किसानों की आय दोगुनी करने का, मोदी सरकार ने आय तो कई गुना बढ़ा दी, लेकिन अदाणी-अंबानी की.” उन्होंने आगे लिखा, “जो काले कृषि कानूनों को अब तक सही बता रहे हैं, वे क्या खाक किसानों के पक्ष में हल निकालेंगे.” Also Read - Climate Adaptation Summit 2021: पीएम मोदी का ऐलान, भारत न केवल पर्यावरण क्षति को रोकेगा बल्कि इसे ठीक भी करेगा

गौरतलब है कि पंजाब और हरियाणा के किसानों ने सिंधु और टिकरी बॉर्डर एंट्री पॉइंट पर रैली जारी रखी है. वहीं उत्तर प्रदेश के किसान भी राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने के लिए रविवार सुबह दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर के पास गाजीपुर में इकट्ठा हुए. Also Read - Kisan Andolan: कब खत्म होगा किसानों का आंदोलन? कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिया यह जवाब...

पुलिस अधिकारियों ने किसानों के साथ बातचीत की. उन्हें उत्तर-पश्चिमी दिल्ली के बुराड़ी स्थित निरंकारी मैदान जाने की अनुमति देने के लिए वे तैयार थे, जहां किसानों का एक वर्ग पहले से ही डेरा डाले हुए था, लेकिन भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले रैली कर रहे उत्तर प्रदेश के किसान अपना विरोध दर्ज कराने के लिए मध्य दिल्ली के संसद भवन जाने पर अड़े थे. Also Read - Kisan Andolan: मुंबई रैली में गरजे शरद पवार, पीएम मोदी से पूछा, क्या ये किसान पाकिस्तान के हैं?

मुजफ्फरनगर के किसान संजय त्यागी ने किसानों से बुराड़ी में रैली करने की केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की सलाह पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “हमें बुराड़ी जाकर क्या मिलेगा? क्या वहां अमित शाह हमारे वोट मांगने आएंगे? अगर वह किसानों से बात करना चाहते हैं, तो उन्हें अंतर्राज्यीय सीमा पर आना चाहिए.”