नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी को कर्नाटक में हुए उपचुनावों के नतीजे आने के बाद एक बार फिर से बड़ा झटका लगा है. दरअसल कर्नाटक विधानसभा उपचुनावों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद सिद्धरमैया ने पार्टी के विधायक दल के नेता पद से इस्तीफा दिया. उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, “विधायक दल के नेता के रूप में, मैं लोकतंत्र का सम्मान करता हूं. मैंने कांग्रेस विधायक दल के नेता के रूप में इस्तीफा दे दिया है. मैंने अपना इस्तीफा सोनिया गांधी जी को सौंप दिया है.” उन्होंने ये भी कहा, “मैंने कर्नाटक विधानसभा में विपक्ष के नेता के रूप में भी इस्तीफा दे दिया है.” सिद्धरमैया के इस्तीफा देने के बाद कर्नाटक के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दिनेश दिनेश गुंडू राव ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.


बता दें कि कांग्रेस पार्टी इस दक्षिणी राज्य में 15 सीटों के उपचुनाव के लिए पांच दिसंबर को मतदान में केवल दो सीटों पर ही बढ़त बनाए हुए है. वहीं कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा ने उपचुनावों में छह सीटें जीतकर विधानसभा में सोमवार को बहुमत हासिल कर लिया. वह छह अन्य सीटों पर आगे भी चल रही है. कर्नाटक विधानसभा उपचुनावों के लिए मतगणना अभी चल रही है. महाराष्ट्र में सरकार न बना पाने के बाद कर्नाटक में भाजपा का 12 सीटों पर अच्छा प्रदर्शन उसके लिए मनोबल बढ़ाने वाला है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी के संकटमोचक डी.के. शिवकुमार ने यहां पत्रकारों से कहा, “हमने हार स्वीकार कर ली है, क्योंकि लोगों ने हमारे ज्यादातर दलबलुओं को स्वीकार कर लिया, जो भाजपा में शामिल हो गए और उन्होंने कमल चुनाव चिह्न् पर चुनाव लड़ा है. ये वो सीटें थीं, जहां से उन्होंने इस्तीफे दे दिए थे और फिर वे अयोग्य घोषित कर दिए गए थे.”